S M L

2021 तक सभी मानवरहित रेलवे क्रासिंग होंगे खत्म: रेल राज्यमंत्री

रेल विभाग द्वारा सुरक्षित यात्रा की दिशा में विशेष ध्यान दिया गया है. पूरे देश में पुरानी रेल पटरियों को बदलने का कार्य किया जा रहा है.

Updated On: Jul 13, 2018 09:28 PM IST

Bhasha

0
2021 तक सभी मानवरहित रेलवे क्रासिंग होंगे खत्म: रेल राज्यमंत्री

केंद्रीय रेल राज्य मंत्री राजेन गोहेन ने शुक्रवार को कहा कि देशभर में 2021 तक सभी मानवरहित रेलवे क्रासिंग खत्म कर दिए जाएंगे और बीकानेर संभाग के सभी मानवरहित रेलवे क्रासिंग अंडरपास बनाकर पहले ही खत्म कर दिए गए हैं.

उन्होंने बीकानेर रेलवे स्टेशन पर बीकानेर-बिलासपुर-बीकानेर साप्ताहिक अंत्योदय एक्सप्रेस को झंडी दिखाकर रवाना करने के बाद पत्रकारों से कहा कि मानवरहित रेलवे क्रासिंग को खत्म करने से इन पर होने वाली घटनाओं पर रोक लगेगी. इनको खत्म करने का निर्देश दिया गया है.

उन्होंने कहा कि रेल विभाग द्वारा सुरक्षित यात्रा की दिशा में विशेष ध्यान दिया गया है. पूरे देश में पुरानी रेल पटरियों को बदलने का कार्य किया जा रहा है. पिछले तीस वर्षों में पहली बार रेल दुर्घटनाओं में कमी आई है.

उन्होंने कहा कि भारतीय रेल पूरे देश में संपर्क प्रदान करने के लिए प्रयासरत है और यात्रा को सहज और आरामदेह बनाने पर बल दिया जा रहा है. इस अंत्योदय ट्रेन से लोगों को यात्रा करने में सुविधा होगी और लोगों को संपर्क प्रदान होगा. इस ट्रेन में बायो शौचालय, मोबाइल चार्जिंग जैसी अच्छी सुविधाएं हैं, जो यात्रा को सुखद बनाती हैं.

कांग्रेस के पास बोलने को कुछ नहीं, जनता को सब पता

बीजेपी के विकास मॉडल के खिलाफ कांग्रेस के टी-शर्ट वॉर के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि विकास के मुददे पर कांग्रेस के पास बोलने को कुछ नहीं है, इस बारे में जनता को सब पता है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पिछले चार सालों में देश में अनेक ऐतिहासिक विकास कार्य हुए हैं. रेलवे में भी इस दौरान आमूलचूल परिवर्तन हुए हैं. उन्होंने कहा कि रेल विभाग द्वारा दस से अधिक अंत्योदय एक्सप्रेस चलाई हैं. राजस्थान में लम्बी दूरी की यह पहली रेलगाड़ी है.

असम के नोंगांव से सांसद गोहांई ने कहा कि बीकानेर के कई लोग असम में व्यापार करते हैं और उनका आसम से बीकानेर आना जाना रहता है. इन्हीं लोगों द्वारा गुवाहाटी से दिल्ली तक चलने वाली अवध-असम ट्रेन को बीकानेर तक बढ़वाने के लिए आग्रह किया था, जिसे बीकानेर तक बढ़वाया गया था. उन्होंने कहा कि बीकानेर-बिलासपुर-बीकानेर अन्त्योदय एक्सप्रेस इन्टरकनेक्टेड गाड़ी है. इसके यात्री एक डिब्बे से दूसरे डिब्बे में बिना उतरे आ-जा सकते हैं.

इस मौके पर केंद्रीय जल संसाधन राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार 'पण्डित दीन दयाल उपाध्याय' ने अन्त्योदय की परिकल्पना की दिशा में कार्य कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi