S M L

बेंगलुरुः ट्रैफिक बोझ कम करने के लिए रेलवे का 492 करोड़ का प्रोजेक्ट

बेंगलुरु के उपनगरीय इलाकों में यात्रियों की बढ़ती संख्या के कारण ट्रैफिक पर आ रहे बोझ को देखते हुए रेलवे ने यह फैसला लिया है

FP Staff Updated On: Mar 22, 2018 12:02 PM IST

0
बेंगलुरुः ट्रैफिक बोझ कम करने के लिए रेलवे का 492 करोड़ का प्रोजेक्ट

बेंगलुरु के उपनगरीय इलाकों (सबअर्बन) में आवागमन के बढ़ते दबाव को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने 492.87 करोड़ रुपए की लागत से बेंगलुरु कैंट से वाइटफील्ड तक दो अतिरिक्त लाइनों के प्रावधान के एक परियोजना को मंजूरी दे दी है.

25 किलोमीटर लंबी दूरी वाले इस लाइन पर शहर के 6 सबसे महत्वपूर्ण स्टेशन बेंगलुरु छावनी, बेंगलुरु पूर्व, बैयापनहल्ली, कृष्णराजपुरम, हूडी और वाइटफील्ड शामिल होंगे. रेल मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि इस रेल खंड के निर्माण के बाद बेंगलुरु के भीतर रोजाना 62 हजार यात्रियों को कम समय में आसानी से उनकी मंजिल तक पहुंचाया जा सकेगा.

रेलवे के बयान के मुताबिक, यह परियोजना दो से तीन साल के भीतर पूरी हो जाएगी. यह वाइटफील्ड के आईटी हब में रहने वाले लोगों के लिए वरदान साबित होगी. फिलहाल बेंगलुरु स्टेशन से 146 और यशवंतपुर स्टेशन से 94 ट्रेन चलती हैं. इनमें से 122 उपनगरीय यात्रियों के लिए चलाई जाती हैं.

बयान में कहा गया है कि उपनगरीय ट्रेनों का बड़ा हिस्सा बेंगलुरु से वाइटफील्ड तक चल रहा है. यात्रियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए पिछले डेढ़ साल में 26 नई रेल सेवा को शुरू किया गया है. इसमें से 7 ट्रेने लंबी दूरी की हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi