S M L

मानव रहित क्रॉसिंग: दुर्घटनाएं रोकने के लिए रेलवे लेगा रिटायर्ड जवानों की मदद

रेलवे मानव रहित क्रॉसिंग पर रिटायर हो चुके जवानों और होमगार्ड के सिपाहियों को लगाएगा जिससे कुशीनगर जैसी घटनाएं दोबारा ना हों

Updated On: May 11, 2018 12:20 PM IST

Bhasha

0
मानव रहित क्रॉसिंग: दुर्घटनाएं रोकने के लिए रेलवे लेगा रिटायर्ड जवानों की मदद

रेलवे मानव रहित क्रॉसिंग पर दुर्घटनाओं को रोकने के लिए रिटायर जवानों और होमगार्ड के सिपाहियों की मदद लेने की तैयारी में है. रेलवे इन क्रॉसिंग पर रिटायर हो चुके जवानों और होमगार्ड के सिपाहियों को लगाएगा जिससे कुशीनगर जैसी घटनाएं दोबारा ना हों. कुशीनगर जिले में पिछले दिनों मानव रहित क्रासिंग पर स्कूल वैन के ट्रेन की चपेट में आने से कई बच्चों की मौत हो गई थी.

कुशीनगर में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने आए रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि पहले तो इन क्रॉसिंगों को बंद करने पर रेलवे गंभीरता से विचार कर रहा है लेकिन अभी हादसों को रोकने के लिए गेट मित्र लगाने का फैसला किया गया है.

उन्होंने कहा कि अक्टूबर के अंत तक जो मानव रहित क्रॉसिंग बच जाएंगे, वहां हम रिटायर हो चुके जवानों और होमगार्ड के सिपाहियों की तैनाती पर विचार कर रहे है. उन्होंने कहा कि जवानों की कमी की स्थिति में स्थानीय लोगों को ऐसी क्रासिंग पर तैनात किया जाएगा.

सिन्हा ने कहा कि जौनपुर और पूरे उत्तर प्रदेश में 1947 से 2014 तक रेलवे की विभिन्न परियोजनाओं पर जितना खर्च किया गया होगा, उससे कहीं ज्यादा काम  2014 से 2018 के बीच मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर किया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi