S M L

पंजाब में ड्रग्स तस्करों को 'बचाने' वाले पूर्व SSP के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

राज जीत सिंह विजीलेंस ब्यूरो के पुलिस थाने में दर्ज एफआईआर नंबर 1/2015 से संबंधित केस में पूछताछ के लिए समन किए गए हैं. साल 2015 में पुलिस थाना फ्लाइंग स्कॉड में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी

Updated On: Jul 08, 2018 12:33 PM IST

FP Staff

0
पंजाब में ड्रग्स तस्करों को 'बचाने' वाले पूर्व SSP के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

पंजाब के पूर्व एसएसपी (वरिष्ठ उप पुलिस अधीक्षक) राज जीत सिंह के विदेश भाग जाने की मीडिया रपटों के बीच विजिलेंस ब्यूरो, पंजाब ने उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है.

राज जीत सिंह विजीलेंस ब्यूरो के पुलिस थाने में दर्ज एफआईआर नंबर 1/2015 से संबंधित केस में पूछताछ के लिए समन किए गए हैं. साल 2015 में पुलिस थाना फ्लाइंग स्कॉड में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी.

प्राथमिकी में सिंह पर आरोप लगाए गए हैं कि कुछ गिरफ्तार ड्रग्स तस्करों को क्लिनचीट दिलाने में उन्होंने मदद की. राज जीत सिंह के अलावा इसी केस में इंस्पेक्टर इंदरजीत सिंह पर भी आरोप लगे जिन्हें बर्खास्त कर दिया गया है. दोनों तरन तारन में पदस्थापित थे.

विजीलेंस ब्यूरो की ओर से जारी लुकआउट नोटिस को पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस ब्यूरो को भेज दिया गया है. इसे आगे अलग-अलग हवाई अड्डों और देश से बाहर जाने वाले अन्य स्थानों पर भेजने की तैयारी है. पूर्व एसएसपी राज जीत सिंह मोगा से ट्रांसफर होने के बाद इस समय चौथी बटालियन मोहाली में कमांडेंट के तौर पर तैनात हैं.

एएनआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक, एफआईआर में ऐसे आरोप हैं कि इंस्पेक्टर इंदरजीत सिंह ने ड्रग्स जांच में लगे लैब स्टाफ को ही निशाने पर ले लिया. इंस्पेक्टर ने इस केस के मुख्य आरोपी जगदीप सिंह को गिरफ्तार करने के बजाय उसे गवाह बना दिया. इसमें रुपयों की भी काफी हेरा-फेरी हुई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi