S M L

जालंधर: आतंकी लिंक वाले 3 कश्मीरी छात्र गिरफ्तार, AK 47 और हथियार बरामद

पंजाब पुलिस और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने संयुक्त अभियान में इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे तीनों छात्रों को गिरफ्तार कर अंसार गजवात-उल-हिंद के आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है

Updated On: Oct 10, 2018 06:11 PM IST

FP Staff

0
जालंधर: आतंकी लिंक वाले 3 कश्मीरी छात्र गिरफ्तार, AK 47 और हथियार बरामद

पंजाब पुलिस और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक जॉइंट ऑपरेशन (संयुक्त अभियान) में 3 छात्रों को गिरफ्तार कर जालंधर में आतंकी संगठन अंसार गजवात-उल-हिंद के मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है.

पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) सुरेश अरोड़ा ने बुधवार को कहा कि जालंधर के बाहरी हिस्से शाहपुर स्थित सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग मैंनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी के हॉस्टल से इन छात्रों को पकड़ा गया है.

संयुक्त टीम ने बुधवार तड़के हॉस्टल पर छापा मारा था. उन्होंने बीटेक (सिविल) के द्वितीय सेमेस्टर के छात्र जाहिद गुलजार के कमरे से एक असॉल्ट राइफल समेत दो हथियार और विस्फोटक जब्त किए हैं. गुलजार श्रीनगर के अवंतीपुरा के राजपुरा का रहने वाला है.

गुलजार को मोहम्मद इदरिस शाह उर्फ नदीम और युसूफ रफीक भट के साथ गिरफ्तार किया गया है. शाह पुलवामा का रहने वाला है जबकि रफीक पुलवामा के नूरपुरा का निवासी है.

डीजीपी ने कहा कि यह गिरफ्तारियां विभिन्न जानकारियों के आधार की गई हैं. इस तरह की सूचनाएं थीं कि कुछ आतंकी संगठनों या व्यक्तियों की जम्मू कश्मीर और पंजाब में मौजूदगी है और वो गतिविधियां कर रहे हैं.

इस संबंध में जालंधर के सदर थाने में मामला दर्ज किया गया है.

इन संगठनों/व्यक्तियों की साजिश, नेटवर्क का पर्दाफाश किया जा सके

अरोड़ा ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और पंजाब पुलिस, जम्मू कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर काम कर रही है ताकि पंजाब और जम्मू-कश्मीर में इन संगठनों/व्यक्तियों की साजिश और नेटवर्क का पर्दाफाश किया जा सके.

उन्होंने कहा कि अंसार गजवात-उल-हिंद से संबंधित आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ और जालंधर में हथियारों की जब्ती उस साजिश का हिस्सा है जिसमें पाकिस्तान की आईएसआई देश की पश्चिमी सीमा पर आतंकवाद का प्रसार करना चाहती है.

बता दें कि हाल में पटियाला के बनूर से पंजाब पुलिस ने जम्मू-कश्मीर के शोपियां निवासी गाजी अहमद मलिक को हिरासत में लिया था, जहां वो आर्यन्स ग्रुप पॉलिटेक्निक कॉलेज में पढ़ रहा था.

उन्होंने बताया कि यह मालूम पड़ा था कि गाजी आदिल बशीर शेख के संपर्क में था. शेख जम्मू-कश्मीर का विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) था जो श्रीनगर में पीडीपी विधायक के घर से 7 राइफलों के साथ फरार हो गया था. ऐसा शक है कि वो हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया है.

गाजी को बाद में आगे की तहकीकात के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस के हवाले कर दिया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi