S M L

हमले के दो दिन पहले अमृतसर में दिखा था आतंकी जाकिर मूसा

हाल ही में पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस विभाग ने राज्य में जैश-ए-मोहम्मद के 6-7 आतंकवादियों के घुसने की जानकारी दी थी

Updated On: Nov 18, 2018 02:35 PM IST

FP Staff

0
हमले के दो दिन पहले अमृतसर में दिखा था आतंकी जाकिर मूसा

अमृतसर हमले के पीछे अलकायदा आतंकी जाकिर मूसा का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है. खुफिया विभाग ने दो दिन पहले ही उसके पंजाब में होने की जानकारी दी थी. इसे देखते हुए पंजाब पुलिस ने अमृतसर में उसके पोस्टर भी लगवाए थे. रविवार को हुई इस खौफनाक घटना के बाद माना जा रहा है कि इसमें मूसा की बड़ी भूमिका हो सकती है. हालांकि, पंजाब पुलिस ने इसकी संभावना को फिलहाल खारिज कर दिया है. इस क्रम में पुलिस और इंटेलिजेंस सभी पहलुओं की जांच कर रहे हैं.

पंजाब और राजस्थान सहित उत्तर भारत के कुछ अन्य राज्यों में पहले ही हमले की आशंका जताई गई थी. हाल ही में पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस विभाग ने राज्य में जैश-ए-मोहम्मद के 6-7 आतंकवादियों के घुसने की जानकारी दी थी, जिसके बाद राज्य में अलर्ट जारी किया गया था. वहीं कश्मीर में कड़ी सुरक्षा को देखते हुए हिजबुल कमांडर जाकिर मूसा के भी अपने साथियों के साथ पंजाब पहुंचने की सूचना थी. एक रिपोर्ट में उसके पंजाब से राजस्थान भागने की भी सूचना मिली है. जिसमें कहा गया है कि मूसा वहां के विधानसभा चुनावों को निशाना बना सकता है.

हिज्ब का कमांडर बनते ही मूसा ने दिए थे भड़काऊ बयान

पंजाब बम धमाके के पीछे किसका हाथ है अभी तक इसका पता नहीं चल पाया है और किसी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी भी नहीं ली है, लेकिन शक की सुई जाकिर मूसा की तरफ भी घूम रही है. बता दें कि जब मूसा को (17 अक्टूबर 2016) को हिज़बुल मुजाहिदीन का कमांडर बनाया गया था. उसी दौरान उसका वीडियो सामने आया था, जो काफी चर्चा में रहा था. वीडियो में वह भारत के खिलाफ भड़काऊ बातें कर, धमकी दे रहा था.

जाकिर मूसा वीडियो में आतंकियों से कह रहा था, जो हमले चल रहे हैं उसे जारी रखें, क्योंकि अल्लाह सब्र करने वालों के साथ है. आजादी का सूरज हम जरूर देखेंगे. भारत को धमकी देते हुए उसने कहा था इस बार फौज, पुलिस या बाकी इंडियन एजेंसियां को मुझे कुछ कहने की जरूरत नहीं है, क्योंकि उन्हें खुद पता है कि इस बार उनका सामना किससे है? हम धमकियां देने के आदी नहीं हैं, 'आई बीलिव इन एक्शन.'

वीडियो में मूसा ने कहा था, 'कइयों ने जेहाद का रास्ता अख्तियार किया है. वो हथियार छिन लाए हैं, वो हमारे साथ आए हैं. इंशाअल्लाह, जो भी भाई हमारे साथ शामिल होना चाहते हैं, हम तहेदिल से उनकी खुशामदीद करते हैं. उनको वेलकम करते हैं.'

बुरहान वानी के बाद मूसा बना आतंंक का पोस्टरबॉय

मीडिया में जाकिर मूसा के नाम से मशहूर इस आतंकी का असली नाम जाकिर रशीद भट है. लगभग 20 से 30 साल की उम्र बताए जाने वाला मूसा मीडिया के जरिए अपने मैसेज में माहिर माना जाता है. बुरहान वानी की मौत के बाद मूसा को नया पोस्टरबॉय बताया गया था.

मूसा ने 2013 में चंडीगढ़ के एक इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ाई बीच में छोड़ दी थी. पढ़े-लिखे परिवार का मूसा जम्मू कश्मीर में 2013 से सक्रिय है. वह ए प्लस प्लस श्रेणी का आतंकी है. सेना ने उस पर 12 लाख का इनाम घोषित कर रखा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi