S M L

Pulwama Attack पर पाकिस्तान ने फिर बोला झूठ, कहा- भारत ने जो 22 Location दी, वहां कोई टेरर कैंप नहीं

न्यूज़ एजेंसी PTI के अनुसार, पाकिस्तान ने कहा कि पुलवामा हमले को लेकर 54 लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है, लेकिन अभी तक हमले से किसी के संबंध के बारे में पता नहीं चला है

Updated On: Mar 28, 2019 12:13 PM IST

FP Staff

0
Pulwama Attack पर पाकिस्तान ने फिर बोला झूठ, कहा- भारत ने जो 22 Location दी, वहां कोई टेरर कैंप नहीं

पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) पर पाकिस्तान ने एक और झूठ बोला है. पाकिस्तान ने कहा है कि पुलवामा हमले में उसकी भूमिका के सबूत नहीं मिले हैं. पाकिस्तान ने कहा है कि भारत ने जिन 22 जगहों के बारे में बताया है, वहां पर कोई आतंकवादी शिविर (Terror Camp) नहीं है. ऐसे में अगर भारत सरकार की ओर से कोई गुजारिश (Request) आती है, तो पाकिस्तान इन स्थानों का दौरा करने की इजाजत देने को तैयार है.

न्यूज़ एजेंसी PTI के अनुसार, पाकिस्तान ने कहा कि पुलवामा हमले को लेकर 54 लोगों के खिलाफ जांच की जा रही है, लेकिन अभी तक हमले से किसी के संबंध के बारे में पता नहीं चला है.

PTI के मुताबिक, पाकिस्तान का यह भी कहना है कि आगे जो भी जानकारी आएगी, वह नियमों के अनुसार भारत के साथ साझा कर दी जाएगी.

पाकिस्तान के अखबार 'डॉन' ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि भारत की ओर से सौंपे गए सबूतों में कहीं भी पाकिस्तान का कोई संबंध स्थापित नहीं हो रहा है. पाकिस्तान ने कहा है कि भारत यदि हमें कोई ताजा सबूत सौंपता है, तो हम उसकी जांच कर कार्रवाई करने के लिए तैयार हैं.

बता दें कि भारत ने दिल्ली स्थित पाकिस्तान हाई कमिशन को 27 फरवरी को पुलवामा हमले के संबंध में डॉजियर (Documents) सौंपा था. भारत ने अपने डॉजियर में ऐसे सबूत पेश किए थे, जिससे पता चलता था कि पुलवामा हमले में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का ही हाथ है. इसके अलावा भारत ने बताया था कि पाकिस्तान में जैश के कैंप और उनके लीडरों के होने के भी सबूत सौंपे थे.

Pulwama CRPF Attack

14 फरवरी को JeM के फिदायीन कश्मीरी आतंकी ने विस्फोटकों से भरी गाड़ी को सीआरपीएफ जवानों को ले जा रहे बस से टकरा दिया था. इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे (फोटो: रॉयटर्स)

बीते 14 फरवरी को दक्षिण कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने नियंत्रण रेखा (PoK) के पार जाकर जैश के ट्रेनिंग कैंपों पर हमला किया था. 26 फरवरी को रात तकरीबन साढ़े तीन बजे एक साथ 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने बालाकोट में आतंकियों के ठिकानों पर हमला किया और उसे पूरी तरह से नेस्तनाबूत कर दिया.

सूत्रों ने बताया कि बालाकोट में जिस जगह एयर स्ट्राइक हुआ वो पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में सुदूर घाटी में बसा एक शहर है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi