S M L

Pulwama Terror Attack: CCS की मीटिंग के बाद बोले जेटली- पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लिया

सीसीएस की अध्यक्षता प्रधानमंत्री करते हैं. इस मीटिंग में रक्षा मंत्री, गृह मंत्री, विदेश मंत्री और वित्त मंत्री इसमें शामिल हैं.

Updated On: Feb 15, 2019 11:01 AM IST

FP Staff

0
Pulwama Terror Attack: CCS की मीटिंग के बाद बोले जेटली- पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस लिया

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए सबसे बड़े आतंकी हमले के बाद जम्मू कश्मीर की सुरक्षा स्थिति पर विचार-विमर्श के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल की सुरक्षा मामलों की समिति (सीसीएस) की शुक्रवार को बैठक खत्म हो गई है. संभव है कि इस मीटिंग में पाकिस्तान के खिलाफ बड़ा फैसला लिया जा सकता है.

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मीटिंग में हुई चर्चा की जानकारी शेयर करते हुए बताया कि इसमें पाकिस्तान का सीधा संबंध है और सरकार पाकिस्तान के खिलाफ बड़े कदम उठाने के लिए तैयार है.

जेटली ने बताया कि सरकार ने इस दिशा में सबसे बड़ा कदम उठाते हुए भारत ने पाकिस्तान को दिया गया मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया.

जेटली ने बताया कि भारत इस हमले के मद्देनजर पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए उसे अंतरराष्ट्रीय जगत पर बेनकाब करेगा और उसे आतंक के मुद्दे पर दुनिया भर में अलग-थलग करेगा. जेटली ने कहा कि जो लोग भी इस हमले में शामिल हैं, उन्हें इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी.

यह बैठक पुलवामा की फिदायीन हमले की घटना की पृष्ठभूमि में हुई है, जिसमें 40 सीआरपीएफकर्मी शहीद हुए हैं. सीसीएस की अध्यक्षता प्रधानमंत्री करते हैं. इस मीटिंग में रक्षा मंत्री, गृह मंत्री, विदेश मंत्री और वित्त मंत्री इसमें शामिल हैं. साथ ही इसमें एनएसए और एनएससी के सदस्य भी हिस्सा हैं. सीसीएस सुरक्षा और सामरिक मामलों पर निर्णय करती है.

गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर का दौरा करने भी जाने वाले हैं. हादसे की जांच के लिए शुक्रवार को NIA की टीम भी पुलवामा जाएगी. इस टीम में 12 सदस्य होंगे जिसका नेतृत्व IG रैंक के अधिकारी करेंगे.

गृहमंत्री पहले श्रीनगर जाएंगे. फिर यहां से 11 बजे के आसपास वो गवर्नर सत्यपाल मलिक और फोरेंसिक एक्सपर्ट्स की टीम के साथ पुलवामा जाएंगे.

इसके पहले सूत्रों के हवाले से खबर मिली थी कि गुरुवार शाम दिल्ली में CRPF के डीजी राजीव राय भटनागर और गृह मंत्री राजनाथ सिंह के बीच करीब 20 मिनट तक बैठक चली थी. राजीव राय ने CRPF वॉर रूम में मौजूद आला अधिकारियों से रिपोर्ट ली और उसके बाद गृहमंत्री को सारी जानकारी दी.

बता दें कि गुरुवार को पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमलावर ने जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ काफिले की एक बस से विस्फोटक भरे अपनी गाड़ी को भिड़ा दिया. हाल के सालों में जम्मू-कश्मीर में हुआ यह भीषण आतंकवादी हमला है.

(एजेंसी से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi