S M L

पद्मावती विवाद: भीलवाड़ा से दिल्ली तक हंगामा और विरोध-प्रदर्शन

राजपूत समाज और करणी सेना ने फिल्म में इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए उस पर बैन लगाने की मांग की है

Updated On: Nov 25, 2017 07:03 PM IST

FP Staff

0
पद्मावती विवाद: भीलवाड़ा से दिल्ली तक हंगामा और विरोध-प्रदर्शन

फिल्‍म पद्मावती पर शुरु हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. शनिवार को फिल्म के विरोध में करणी सेना और सर्व समाज मेवाड़ क्षेत्रीय महासभा द्वारा बुलाए गए भीलवाड़ा बंद का खासा असर देखने को मिला. भीलवाड़ा शहर के साथ-साथ मंडल और हमीरगढ़ कस्‍बे भी पूरी तरह से बंद रहे. इस दौरान कुछ हुड़दंगी युवकों ने मिलन टॉकिज रोड और सब्‍जी मंडी में तोड़फोड़ किया.

हंगामे और उत्पात के बाद पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच जमकर झड़प हुई. शहर के सुभाष नगर कोतवाली और भीमगंज थाना पुलिस ने इन दौरान जमकर लाठियां भांजी. बंद समर्थकों को यहां के स्‍कूल, मेडिकल स्‍टोर एसोसिएशन और पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने भी अपना सां‍केतिक समर्थन दे रखा था. शनिवार सुबह से ही बंद समर्थक टोलियां बनाकर बाजारों और मोहल्ले में घूमते रहे. इस दौरान हालात को काबू में रखने के लिए पुलिस मुस्तैद बनी रही और सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे.

दिल्ली के आजादपुर में भी संजय लीला भंसाली की बनाई फिल्म पद्मावती का  जबरदस्त विरोध हुआ. हंगामा कर रहे लोगों ने इस दौरान सड़क को जाम कर दिया. प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी करते हुए फिल्म के निर्माता-निर्देशक संजय लीला भंसाली का पुतला फूंका गया. उन्होंने सरकार से इस फिल्म पर बैन लगाने की मांग की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi