live
S M L

पीएम मोदी ने किया वादा, 2022 तक किसानों की आय डबल

प्रधानमंत्री ने किसानों से कृषि के आधुनिक तरीकों जैसे कि ड्रिप सिंचाई अपनाने के लिए कहा.

Updated On: Apr 18, 2017 09:25 AM IST

Bhasha

0
पीएम मोदी ने किया वादा, 2022 तक किसानों की आय डबल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के आधुनिक तकनीक अपनाने पर जोर देते हुए कहा कि उनकी सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का फैसला किया है. जब भारत अपनी आजादी के 75 वर्ष पूरे करेगा मोदी ने लिंक-2 पाइपलाइन नहर सौनी (सौराष्ट्र नर्मदा अवतरण सिंचाई) के 1500 करोड़ रुपए की पहले चरण की परियोजना लोगों को समर्पित करते हुए और परियोजना के लिंक-2 की 1694 करोड़ रुपए की दूसरे चरण की नींव रखते हुए यह घोषणा की.

ये भी पढ़ें: 'सूट-बूट की सरकार' का जवाब है किसानों की कर्जमाफी

सौनी योजना के तहत सूखाग्रस्त सौराष्ट्र क्षेत्र में 115 बांधों के लिए नर्मदा से पानी लिया जाएगा.

प्रधानमंत्री ने किसानों से कृषि के आधुनिक तरीकों जैसे कि ड्रिप सिंचाई अपनाने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का फैसला किया है.

उन्होंने कहा, केंद्र ने तकनीक में सुधार करके, दूध उत्पादन बढ़ाकर, सौर उर्जा का इस्तेमाल करके, शहद का उत्पादन करके 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का निर्णय किया है. लोग 15 साल पहले यह सोच नहीं सकते थे कि वह इस क्षेत्र में सूखे जैसी समस्या से बाहर आ सकते हैं.

ये भी पढ़ें: किसानों ने प्रधानमंत्री कार्यालय के बाहर नग्न होकर प्रदर्शन किया

उन्होंने भीम एप डाउनलोड करने और दूसरे लोगों को डाउनलोड करवाने में मदद करके पैसा कमाने की अपील करते हुए कहा, हमें आधुनिक प्रौद्योगिकी अपनाने का स्वभाव बनाना होगा। समस्त सरकार, चाहे वह केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार. बैंकों तक पहुंच आपके मोबाइल फोन में होनी चाहिए.

मोदी ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री होने के नाते वह किसानों की समस्याओं को बेहतर तरीके से समझते हैं. उन्होंने कहा, लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने के बाद प्रधानमंत्री बनने वाला मैं पहला व्यक्ति हूं. इसलिए मैं जानता हूं कि जब किसानों को समय पर यूरिया या पानी नहीं मिलता है तो उन्हें कितनी परेशानी होती है। मेरे लिए लोगों की परेशानियां समझना आसान है.

ये भी पढ़ें: यूपी की तरह दूसरे राज्य भी माफ करें किसानों का कर्ज: वीरेंद्र सिंह मस्त

प्रधानमंत्री ने कहा, गुजरात के मुख्यमंत्री के तौर पर जब मैं बैठकों के लिए केंद्र के पास जाता था और कहता कि हमने अपने बजट का बड़ा हिस्सा पानी पर खर्च कर दिया तो कई लोग मेरी आलोचना करते हुए कहते थे कि इस तरह आप चुनाव नहीं जीत सकते. मैं चुनाव जीतने के लिए काम नहीं करता बल्कि गुजरात के लोगों की सेवा के लिए करता हूं. पानी से ही ना कि पैसों से ग्रामीण गुजरात प्रगति कर सकता है.

पीएम मोदी ने कहा, आज देवी नर्मदा यहां लोगों को आशीर्वाद देने के लिए स्वयं अवतरित हुई है. जल ईश्वर की तरह है, हमें इसे बर्बाद करने का कोई अधिकार नहीं है. मोदी ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की उनके ‘नर्मदा यात्रा’ अभियान के लिए प्रशंसा की.

ये भी पढ़ें: भूमिहीन किसानों को भी मिलेगा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ : सरकार

उन्होंने कहा, गुजरात के किसानों को चौहान सरकार का आभार जताना चाहिए. यह सुनिश्चित करने के लिए कि गुजरात के किसान पानी की कमी का सामना ना करें, मध्य प्रदेश सरकार ने नर्मदा यात्रा आयोजित की और लोगों से नर्मदा के किनारे पेड़ लगाने के लिए कहा. मोदी ने कहा, भाजपा की शिवराज सिंह चौहान सरकार जंगलों का विस्तार कर रही है ताकि मां नर्मदा सौ वर्ष बाद भी सूखे नहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi