S M L

टीवी की बहस भाषाई चरमपंथ को बढ़ावा दे रही है: प्रसून जोशी

सीबीएफसी चीफ का कहना है कि आज टीवी पर बहस करना आना बड़ा वरदान है

Updated On: Dec 17, 2017 04:30 PM IST

FP Staff

0
टीवी की बहस भाषाई चरमपंथ को बढ़ावा दे रही है: प्रसून जोशी

सीबीएफसी के चेयरमैन प्रसून जोशी ने टीवी चैनलों पर होने वाली बहस पर निशाना साधा है. प्रसून ने कहा कि छोटी-छोटी बाइट वाली एक-एक लाइन की बहस भाषा के चरमपंथ को बढ़ा रही हैं.

गोवा में इंडिया आइडिया कॉन्क्लेव में हिस्सा लेने पहुंचे प्रसून जोशी ने अपने विचार रखे. उन्होंने कहा कि कई बार टीवी पर बहस में दिख रहे लोग असहाय दिखते हैं. इन पैनलिस्ट्स को लगता है कि वो बहस जीतने का तरीका जानते हैं. टीवी डिबेट्स ने देश में कुछ चुने हुए लोगों को काफी फायदा पहुंचाया है. और ये कुछ लोग देश के प्रति बहुत लापरवाह रहे हैं. टीवी पर बहस करने की कला आना आज की तारीख में वरदान सरीखी है.

आज जो लोग बहस नहीं कर सकते हैं, उनकी आवाज़ नहीं सुनी जाती है. वो बात कहना शुरू करें उससे पहले उन्हें चुप करा दिया जाता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi