S M L

'कोई भी मामला SC में ले जाने से पहले सोचना पड़ता है, भ्रष्टाचार वहां भी'

राफेल मामले में वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने कहा कि वो सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने को लेकर दुविधा में हैं क्योंकि देश की सबसे बड़ी अदालत में भी भारी भ्रष्टाचार है

Updated On: Aug 26, 2018 12:16 PM IST

Bhasha

0
'कोई भी मामला SC में ले जाने से पहले सोचना पड़ता है, भ्रष्टाचार वहां भी'

स्वराज अभियान संगठन के अध्यक्ष और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने दावा किया कि राफेल मामले में वो सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने को लेकर दुविधा में हैं क्योंकि सर्वोच्च अदालत में भी भारी भ्रष्टाचार है.

शनिवार को रांची में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में कोई मामला ले जाने से पहले दो बार सोचना पड़ता है क्योंकि देश के सबसे बड़े न्यायालय में भी बहुत भ्रष्टाचार है. यही वजह है कि वो इस मामले को अदालत में ले जाने को लेकर अनिर्णय की स्थिति में हैं.

यह पूछे जाने पर कि क्या सुप्रीम कोर्ट में भी भ्रष्टाचार है, भूषण ने कहा, 'इस बारे में कोई दो राय नहीं है कि उच्चतम न्यायालय में भ्रष्टाचार है'. उन्होंने आरोप लगाया कि राफेल सौदे में 36 हजार करोड़ रुपए का घोटाला हुआ है. ऐसे में सौदे को लेकर भूषण केंद्र पर चौतरफा दबाव डालने की सोच रहे हैं. उन्होंने मीडिया से कहा कि इस मामले में जो भी नतीजा सामने आता है, वो देख लेंगे.

प्रशांत भूषण ने इस दौरान कांग्रेस पार्टी की इस बात के लिए प्रशंसा की कि उसने इस मामले को दृढ़ता से उठाया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi