S M L

मदद के लिए सरकार के सामने हाथ न फैलाएं स्‍कूल: प्रकाश जावड़ेकर

संस्थान की बेहतरी के लिए सरकार के सामने 'मदद के लिए हाथ फैलाने' की बजाय उन्हें अपने एलुम्नाई की मदद लेनी चाहिए

Updated On: Sep 15, 2018 09:27 PM IST

FP Staff

0
मदद के लिए सरकार के सामने हाथ न फैलाएं स्‍कूल: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शैक्षणिक संस्थानों से कहा है कि संस्थान की बेहतरी के लिए सरकार के सामने 'मदद के लिए हाथ फैलाने' की बजाय उन्हें अपने एलुम्नाई की मदद लेनी चाहिए. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री शुक्रवार को ज्ञान प्रबोधिनी स्कूल के एक कार्यक्रम में बोल रहे थे.

जावड़ेकर ने कहा, 'पूरे विश्व में, शैक्षणिक संस्थानों को कौन चलाता है? पूर्व छात्र चलाते हैं. विश्वभर में विश्वविद्यालय कौन चलाते हैं? पूर्व छात्र जो अपने-अपने क्षेत्र में सफल रहे और फिर उन्होंने अपने संस्थान को वापस दिया. ज्ञान प्रबोधिनी में इस बात की परंपरा रही है. मुझे बताया गया है कि यहां के पूर्व छात्र स्कूल के लिए जितना कर सकते हैं उतना करते हैं.'

जावड़ेकर ने कहा कि- ऐसे स्कूल भी चलते हैं. नहीं तो हर बार सरकार के पास कटोरा लेकर जाएंगे और बात करेंगे कि हमें मदद चाहिए. अरे मदद तो आपके घर में पड़ी हुई है. आपके जो पूर्व छात्र हैं उनकी भी जिम्मेदारी बनती है.

साथ ही उन्होंने मंत्रालय द्वारा स्कूली बस्तों का 50 प्रतिशत बोझ कम करने के प्रयासों के बारे में भी बताया.

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi