S M L

बच्चों को बताएं, आखिर इमरजेंसी ने कैसे किया लोकतंत्र को प्रभावित: जावड़ेकर

जावड़ेकर ने कहा कि भविष्य में जब बच्चे इमरजेंसी के बारे में पढ़ेंगे तो वह बेहतर तरह से जान सकेंगे

FP Staff Updated On: Jun 25, 2018 08:00 PM IST

0
बच्चों को बताएं, आखिर इमरजेंसी ने कैसे किया लोकतंत्र को प्रभावित: जावड़ेकर

इमरजेंसी भारतीय इतिहास के काले पन्नों में दर्ज एक ऐसी घटना है जिसके बारे में आने वाली पीढ़ियों को जानना चाहिए. देश के मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कुछ ऐसा ही बयान दिया है.

जावड़ेकर ने कहा कि हमारी किताबों में इमरजेंसी पर कई अध्याय हैं और इसका कई बार जिक्र भी आता है लेकिन हमें अपने कोर्स मैटेरियल में यह भी जोड़ना होगा कि आखिर इमरजेंसी ने लोकतंत्र को कैसे प्रभावित किया.

जावड़ेकर ने कहा कि भविष्य में जब बच्चे इसके बारे में पढ़ेंगे तो वह बेहतर तरह से इमरजेंसी के बारे में जान सकेंगे. बता दें कि इंदिरा गांधी सरकार ने 25 जून, 1975 को इमरजेंसी लगाकर पूरे देश को एक बड़े जेलखाने में बदल दिया था. इमरजेंसी के दौरान नागरिकों के मौलिक अधिकारों को छीन लिया गया था.

इंदिरा गांधी सरकार ने जयप्रकाश नारायण समेत लगभग एक लाख राजनीतिक विरोधियों को देश के अलग-अलग जेलों में ठूंस दिया था और कड़ा प्रेस सेंसरशिप लगा दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi