S M L

'धर्म की राजनीति से हिंदुओं में हाफिज सईद पैदा हो सकता है'

प्रकाश अंबेडकर ने कहा, धर्म की राजनीति से हिंदुओं में हाफिज सईद पैदा हो सकता है. इससे देश में नई हिटलरशाही का उदय हो रहा है

Updated On: Jan 06, 2018 04:18 PM IST

FP Staff

0
'धर्म की राजनीति से हिंदुओं में हाफिज सईद पैदा हो सकता है'
Loading...

संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर के पोते प्रकाश अंबेडकर ने धर्म की राजनीति करने वालों को आगाह किया है. उन्होंने कहा, धर्म की राजनीति जब बेकाबू होती है तो वह बेलगाम हो जाती है. इसलिए इसे रोका जाना जरूरी है. बकौल प्रकाश अंबेडकर, 'धर्म की राजनीति को नहीं रोका गया तो यह हिंदुओं के बीच 'हाफिज सईद' पैदा कर सकता है.'

प्रकाश अंबेडकर ने लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक और मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड सईद का हवाला देते हुए कहा कि धर्म के नाम पर जो हो रहा है, यह हिटलरशाही की तरह अस्तित्व में आ रहा है.

भीमा-कोरेगांव का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, हिंदुत्व संगठन से जुड़े लोगों ने पिछड़ी जाति के लोगों पर हमला किया. यह सईद वाली सोच को दर्शा रहा है. उन्होंने कहा, 'धर्म की राजनीति जब बेकाबू होती है तो वह बेलगाम हो जाती है. इनको रोका नहीं गया तो हिंदुओं में भी कई हाफिज सईद पैदा होंगे. धर्म के नाम पर जो ये नई व्यवस्था पनप रही है ये एक तरह से हिटलरशाही है.'

अंबेडकर ने पिछड़े वर्ग के लोगों से वोट की ताकत पहचानने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि पिछड़े वर्ग के लोगों को अपना वोट केवल पिछड़े, आदिवासी और दलित वर्ग के उम्मीदवार को देकर सत्ता की बागडोर अपने हाथ में लेनी होगी. अंबेडकर ने कहा, समाज को लोकतांत्रिक बनाने की जिम्मेदारी हमारी है. इसके लिए ओबीसी की छोटी-छोटी जातियों को मान सम्मान देना होगा. यह सम्मान की लड़ाई है और सम्मान के साथ सत्ता भी मिलती है.

उन्होंने केंद्र की बीजेपी नीत सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, 'यह सरकार दोबारा आई तो हम जो यह बात करते हैं, यह बात करने का अधिकार भी छीन लिया जाएगा. इसलिए अपने अधिकार बरकरार रखने और संविधान की रक्षा के लिए हमें लड़ना होगा.'

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi