S M L

दलित दूल्हे को मिली पुलिस सुरक्षा, दबंगों ने घोड़े पर बैठकर नहीं निकलने दी थी बारात

गांधीनगर के परसा में दरबार समुदाय द्वारा दलित दूल्हे के घोड़े पर चढ़ने को लेकर आपत्ति की गई थी

Updated On: Jun 18, 2018 08:32 PM IST

FP Staff

0
दलित दूल्हे को मिली पुलिस सुरक्षा, दबंगों ने घोड़े पर बैठकर नहीं निकलने दी थी बारात

गुजरात के गांधीनगर में दलित दूल्हे का घोड़े पर चढ़ने को लेकर हुआ विवाद अभी तक थमा नहीं है. विवाद के बाद दलित दूल्हे को पुलिस सुरक्षा उपलब्ध करवाई गई है. गांधीनगर के परसा में दरबार समुदाय द्वारा दलित दूल्हे के घोड़े पर चढ़ने को लेकर आपत्ति की गई थी.

दूल्हे के परिवार ने बताया कि दरबार समुदाय के लोगों ने दूल्हे को रोक दिया और सभी लोगों को धमकाते हुए कहा कि केवल दरबार समुदाय ही घोड़े पर बैठ सकता है.दरअसल मामला रविवार का है जब प्रशांत सोलंकी घोड़े पर बैठे थे और उनकी बारात निकल रही थी. यह देखते ही दरबार समुदाय के लोग भड़क गए और उन्‍होंने घोड़े के मालिक को धमकी दी.

बढ़ते दबाव की वजह से मालिक घोड़ी लेकर भाग गया. गांव के सरपंच ने इस मामले की जानकारी पुलिस को दी. बाद में पुलिस सुरक्षा में करीब 2 घंटे की देरी के बाद दूल्‍हे की बारात निकाली जा सकी.

दूल्हे ने बताया कि दूल्‍हा, 'मेरी बारात निकलते ही गांव के कुछ लोगों ने हमें बारात ना निकालने की धमकी दी.' गांव के लोगों ने बताया कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, एक महीने पहले भी एक दलित की बारात में क्षत्रिय समुदाय के लोगों ने घोड़ी वाले को पीटा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi