Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

अजमेर शरीफ में 805वीं उर्स के लिए मोदी ने दो केंद्रीय मंत्रियों से भिजवाई चादर

प्रधानमंत्री ने दुनियाभर में ख्वाजा चिश्ती को मानने वाले लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दीं

FP Staff Updated On: Mar 24, 2017 08:34 PM IST

0
अजमेर शरीफ में 805वीं उर्स के लिए मोदी ने दो केंद्रीय मंत्रियों से भिजवाई चादर

देश में शांति और सांप्रदायिक सौहार्द को स्थापित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को प्रसिद्ध अजमेर शरीफ दरगाह पर चादर भेजी.

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी और कार्मिक और पेंशन मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह प्रधानमंत्री की ओर से अजमेर स्थित ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की प्रसिद्ध दरगाह पर चादर चढ़ाएंगे.

इस मौके इस मौके पर प्रधानमंत्री ने दुनियाभर में ख्वाजा चिश्ती को मानने वाले लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दीं.

प्रधानमंत्री कार्यालय के एक बयान के अनुसार, पीएम मोदी ने अपने संदेश में कहा कि ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती भारत की महान आध्यात्मिक परंपराओं के प्रतीक हैं. उन्होंने कहा कि गरीब नवाज द्वारा की गई मानवता की सेवा भविष्य की पीढ़ियों के लिए प्रेरणा बनी रहेगी.

शुक्रवार को ही ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के 805वें उर्स का झंडा दरगाह के बुलंद दरवाजे पर चढ़ाया जाएगा. इसके साथ ही उर्स की अनौपचारिक शुरुआत हो जाएगी.

हालांकि औपचारिक रूप से उर्स की शुरुआत 28 मार्च को रजब का चांद दिखने के बाद होगी. उर्स को लेकर प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली हैं. सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं और पहली बार ड्रोन से यहां चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जाएगी.

वहीं रेलवे ने भी 40 स्पेशल ट्रेनें चलाने की तैयारी की है. प्रशासन ने साढ़े चार हजार जवानों को तैनात किया है. ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती दरगाह को सीसीटीवी से लैस कर दिया गया.

साभार: न्यूज़18 हिंदी 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi