S M L

देश को मिला पहला ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद

देश की राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के पहले ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ आयुर्वेद का उद्घाटन कर दिया है

Updated On: Oct 17, 2017 12:43 PM IST

FP Staff

0
देश को मिला पहला ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद

देश की राजधानी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के पहले ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ आयुर्वेद का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने दूसरे आर्युवेद दिवस के मौके पर आर्युवेद संस्थान का उद्घाटन किया. आर्युवेद संस्थान 10 एकड़ में बनी है. इस मौके पर पीएम ने कहा कि आर्युवेद सिर्फ चिकित्सा पद्धति नहीं है. आर्युवेद को बढ़ाने के लिए युवा आगे आएं.

पीएम ने कहा, हर जिले में आर्युवेद का अस्पताल हो. आयुष मंत्रालय इस दिशा में काम कर रही है. कोई भी देश विकास की कितनी चेष्ठा करे. लेकिन वो तब तक आगे नहीं बढ़ता, जब तक अपने इतिहास और विरासत पर गर्व करना नहीं जानता. सैनिकों के लिए भी आर्युवेद कारगर है. गुलामी के वक्त परंपराएं कमजोर करने की कोशिश की गई. दुनिया प्रकति की ओर जा रही है. आजादी के बाद जरूरत थी कि जो था उसे संरक्षित किया जाए, जो जरूरी हो परिवर्तन किया जाए. लेकिन अपनी ही विरासत से मुंह मोड़ लिया गया. परिणामस्वरूप ऐसी जानकारियों के पेटेंट किसी और के पास चले गए. पिछले तीन सालों मे इस स्थिति को बदलने का प्रयास हुआ है."

साथ ही उन्होंने कहा, पिछले तीन सालों में सरकार ने पांच करोड़ से ज्यादा शौचालय बनाएं हैं. मुझे ये जानकर खुशी हुई कि यूपी में बनें नए टॉयलेट्स पर शौचालय की बजाए 'इज्जत घर' लिखा हुआ है.

बता दें कि पिछले साल से आयुर्वेद के जनक धनवंतरी की जयंती यानी धनतेरस को आयुर्वेद दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह एम्स की तर्ज पर बना पहला आयुर्वेद संस्थान है. आयुष मंत्रालय की पहल से इसे 10 एकड़ क्षेत्र में बनाया गया है. यह 157 करोड़ की लागत से तैयार हुआ है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi