S M L

पंजाब के मलोट में पीएम मोदी बोले- किसान के चैन से सोने से कांग्रेस की नींद उड़ी

पंजाब के मलोट में कृषि कल्याण रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये गुरु गोविंद सिंह की वीरता की धरती है

Updated On: Jul 11, 2018 02:14 PM IST

FP Staff

0
पंजाब के मलोट में पीएम मोदी बोले- किसान के चैन से सोने से कांग्रेस की नींद उड़ी

पंजाब के मलोट के मुक्तसर में कृषि कल्याण रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ये गुरु गोविंद सिंह की वीरता की धरती है. उन्होंने कहा कि मुक्तसर बलिदान की भूमि है. मैं पंजाब की माटी की महक से जुड़ा रहा हूं.

रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पंजाब ने हर जगह अपना लोहा मनवाया है. पंजाब ने हमेशा देश को प्रेरित किया. पंजाब ने हमेशा पहले हमारे देश के बारे में सोचा. यहां के किसान रिकॉर्ड पैदावार कर रहे हैं. पंजाब के किसानों को मेहनत का फल मिला है.

पीएम मोदी ने कहा कि हमने कई फसलों को एमएसपी की लागत से दोगुना किया. एमएसपी बढ़ने से पंजाब के किसानों को फायदा होगा. कई फसलों की एमएसपी को लागत से दोगुना किया. अब कपास पर 1120 रुपए ज्यादा मिलेंगे. हम 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करेंगे.

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि 70 साल सिर्फ किसानों से वादे किए गए. इन 70 सालों में बस एक परिवार की चिंता हुई. कांग्रेस ने किसानों के साथ धोखा किया है. किसान के चैन से सोने से कांग्रेस की नींद उड़ गई है. देश के किसान चैन से सो जाए ये कांग्रेस पार्टी को मंजूर नहीं है

मोदी ने कहा, देश में अभी तक 15 करोड़ से ज्यादा SoilHealthCard वितरित किए जा चुके हैं. बीज से बाजार तक एक व्यापक रणनीति के तहत काम किए जा रहा हैं. फसल की तैयारी से लेकर बाजार में बिक्री तक आने वाली हर समस्या के समाधान के लिए एक के बाद एक कदम उठाए जा रहे हैं. देश में एक दौर था जब यूरिया किसानों के पास जाने के स्थान पर फक्ट्रियों में चला जाता था और किसानों को यूरिया लेने के लिए लाठी खानी पड़ती थी. हमनें यूरिया का 100% नीम कोटिंग किया और आज यूरिया किसानों के लिए पर्याप्त मात्र में उपलब्ध होता है.

प्रधानमंत्री ने कहा, किसान की फसल बर्बाद ना हो इसके लिए प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना चल रही है. देश भर में नए गोदाम और फूड पार्क बनाए जा रहे हैं. पूरी सप्लाई चेन को मजबूत किया जा रहा है और ये सुनिश्चित किया जा रहा है कि किसान को उसकी फसल नष्ट होने की वजह से नुकसान न उठाना पड़े.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi