S M L

बाड़मेर रिफाइनरी का कार्य शुभारंभ, 2022 में होगा उद्घाटन

आज जिस रिफाइनरी का 'कार्य शुभारंभ' प्रधानमंत्री ने किया उसका शिलान्यास सोनिया गांधी ने किया था

FP Staff Updated On: Jan 16, 2018 03:41 PM IST

0
बाड़मेर रिफाइनरी का कार्य शुभारंभ, 2022 में होगा उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को राजस्थान की पचपदरा रिफाइनरी का ‘कार्य शुभारम्भ’ किया. रिमोट का बटन दबाकर शुभारंभ करने के बाद पीएम ने जनसभा को संबोधित किया.

खम्मा घणी और नमस्कार के साथ पीएम ने अपना संबोधन शुरू करते हुए रिफाइनरी के शिलान्यास और कार्य आरंभ पर बोलते हुए इसके उद्घाटन की तारीख का भी ऐलान कर दिया. मोदी ने कहा कि मुझे विश्वास दिलाया गया है कि 2022 को जब देश आजादी का 75वां साल मना रहा होगा, रिफाइनरी उद्घाटन हो जाएगा और देश को नई ऊर्जा मिलना शुरू हो जाएगी.

पीएम ने कहा कि सक्रांति के बाद उन्नति निहित होती है. आने वाले दिनों में कोई भी सरकार पत्थर जड़ेगी तो जनता पूछेगी पत्थर जड़ दिया काम कब शुरू होगा? काम शुरू होने पर लोगों को विश्वास होता है. मैंने अधिकारियों से उद्घाटन की तारीख पूछी है, मुझे विश्वास दिया गया है कि साल 2022 में काम पूरा होगा. यह समय संकल्प से सिद्धि का समय है. बाड़मेर की धरती अनगिनत संत, विद्वजनों की धरती है. मोदी ने पूर्व उपराष्ट्रपति भैरोंसिंह शेखावत को याद करते हुए कहा कि उन्होंने राजस्थान में रिफाइनरी का सपना देखा था. मोदी ने जसवंत सिंह का भी किया जिक्र किया और उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना करते हुए उनके अनुभवों का लाभ मिलते रहने की की बात कही.

मोदी के संबोधन से पहले पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने रिफाइनरी को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा था और चुनाव से पहले सोनिया गांधी को बुलाकर राजस्थान की जनता के साथ राजनीतिक धोखा करने की बात कही.

प्रधान के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि रिफाइनरी का सपना हमने 2005 से 2008 के दौरान पहली बार देखा था. और तभी 'मंगला' नाम का कुंआ खुद गया था. इसके बाद कांग्रेस ने सिर्फ वोट पाने के लिए सोनिया गांधी को बुलाकर शिलान्यास करवा दिया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस राजस्थान को कर्ज वाली रिफाइनरी देने जा रही थी. अब रिफाइनरी के कार्य के शुभारम्भ के बाद प्रदेश को 34 हजार करोड़ की अतिरिक्त आय होगी. यह देश की सबसे आधुनिक रिफाइनरी होगी जिसमें प्रदेश का 43 हजार 129 करोड़ का अब तक सबसे बड़ा निवेश होगा. इस रिफाइनरी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद. उन्होंने कहा कि हम पत्थर लगाने में विश्वास नहीं करते, जो कहते हैं वो करके दिखाते हैं और 2022 में रिफाइनरी का उद्घाटन भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही करेंगे.

राजस्थान रिफाइनरी पब्लिक सेक्टर में देश का पहला इन्टिग्रेटिड रिफाइनरी व पेट्रीकेमिकल कॉम्पलेक्स है जिसमे प्लास्टिक, फाइबर, पेन्ट, रबर जैसे अनेक सहायक उद्योगों का भी विकास होगा और प्रदेश में कई हजार नये रोजगार के अवसर बनेंगे जिससे राज्य की आर्थिक स्थिति को प्रगति के पंख लगेंगे. राजस्थान रिफाइनरी से सम्बंधित सभी स्वीकृतियां पूरी हो चुकी हैं और सभी तैयारियों के साथ काम शुरू किया गया है. राजस्थान रिफाइनरी वर्ष 2022-23 तक तैयार हो जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi