विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

चार देशों की यात्रा पर रवाना होंगे पीएम मोदी, देश में निवेश बढ़ाने पर जोर

व्यापारिक कार्यक्रमों के तहत शीर्ष उद्योगपतियों से मिलेंगे

Bhasha Updated On: May 25, 2017 11:02 AM IST

0
चार देशों की यात्रा पर रवाना होंगे पीएम मोदी, देश में निवेश बढ़ाने पर जोर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 मई से जर्मनी, स्पेन, रूस और फ्रांस की यात्रा के लिए रवाना होंगे. इस यात्रा के दौरान वह भारत में विदेशी कंपनियों के निवेश के अवसर को पुरजोर तरीके से उघोगपतियों के सामने रखेंगे.

विदेश मंत्रालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर प्रधानमंत्री के 6 दिनों की विदेश यात्रा के कार्यक्रमों की जानकारी दी. मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री अपनी यात्रा के दौरान कई व्यापारिक कार्यक्रमों के तहत इन देशों के शीर्ष उद्योगपतियों से मिलेंगे.

प्रधानमंत्री का पहला पड़ाव जर्मनी

प्रधानमंत्री मोदी का पहला पड़ाव जर्मनी रहेगा. जहां चांसलर एजेंला मर्केल 29 मई को मेसेबर्ग कंट्री र्रिटीट में उनका स्वागत करेंगी. उसके बाद बैठक में दोनों नेता द्विपक्षीय हितों के मुद्दों पर चर्चा करेंगे. अगले दिन 30 मई को दोनों नेता चौथे भारत-जर्मनी अंतरसरकारी विमर्श आईजीसी में भाग लेंगे. उसी दिन एजेंला के साथ मोदी संयुक्त रूप से एक व्यापार कार्यक्रम को संबोधित करेंगे. जिसमें दोनों देशों के शीर्ष मुख्य कार्यकारियों के मौजूद रहने की संभावना है.

मंत्रालय के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी जर्मनी के राष्ट्रपति फ्रैंक-वाल्टर स्टेनमेयर से भी शिष्टाचार मुलाकात करेंगे. इस बारे में बयान जारी कर कहा गया है कि भारत और जर्मनी के बीच रणनीतिक भागीदारी है. जिससे दोनों देशों के विशेष संबंधों को और गति मिलेगी.

दूसरा पड़ाव स्पेन

जर्मनी के बाद प्रधानमंत्री 31 मई को स्पेन पहुंचेंगे. जहां वह राष्ट्रपति मैरिआनो राजॉय से मुलाकात करेंगे और द्विपक्षीय हित के तथा अन्य मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इसके अलावा वह स्पेन के राजा फिलिप-6 से भी मुलाकात करेंगे. मंत्रालय ने कहा कि मोदी स्पेन के अग्रणी उद्योगपतियों के साथ गोलमेज बैठक करेंगे जो भारत में निवेश को लेकर इच्छुक हैं. प्रधानमंत्री की स्पेन यात्रा से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रिश्तों में और मजबूती आएगी.

तीसरा पड़ाव रूस

स्पेन से मोदी एक जून को रूस के सेंट पीटर्सबर्ग जाएंगे. जहां वो रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के साथ 18वें भारत-रूस सालाना शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे. मंत्रालय ने कहा कि शिखर सम्मेलन के बाद प्रधानमंत्री दो जून 2017 को पहली बार सेंट पीटर्सबर्ग इंटरनेशनल इकोनॉमिक फोरम में विशिष्ट अतिथि के रूप में भाग लेंगे.

चौथा पड़ाव पेरिस

प्रधानमंत्री चौथे और अपने आखिरी पड़ाव में दो जून को पेरिस जाएंगे. जहां वो तीन जून को फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मेक्रोन के साथ द्विपक्षीय हितों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करेंगे. इस वार्ता का मकसद भारत-फ्रांस रणनीतिक संबंधों को और मजबूत बनाना है. मोदी की मेक्रोन के साथ पहली बैठक है. वह इसी महीने की शुरूआत में फ्रांस के राष्ट्रपति चुने गये.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi