S M L

PM मोदी ने 45वीं बार की 'मन की बात': जानें संबोधन की अहम बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 'मन की बात' के जरिये देशवासियों के साथ अपने विचार साझा किए. पीएम मोदी की 'मन की बात' का ये 45वां एडिशन था

Updated On: Jun 24, 2018 12:22 PM IST

FP Staff

0
PM मोदी ने 45वीं बार की 'मन की बात': जानें संबोधन की अहम बातें
Loading...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 'मन की बात' के जरिए देशवासियों के साथ अपने विचार साझा किए. पीएम मोदी की 'मन की बात' का यह 45वां एडिशन था. 'मन की बात' में प्रधानमंत्री मोदी ने टीम इंडिया के खेल भावना की तारीफ की. पीएम मोदी ने भारत-अफगानिस्तान के बीच हुए ऐतिहासिक टेस्ट मैच को याद किया.

पीएम मोदी के 'मन की बात' की खास बातें बताते हैं...

मोदी ने कहा, बेंगलुरु में हुए भारत-अफगानिस्तान टेस्ट मैच अफगानिस्तान के स्टार बॉलर राशिद खान का खेल बहुत अच्छा रहा. यह मैच यादगार रहेगा. मुझे यह मैच इसलिए याद रहेगा क्योंकि भारतीय टीम ने ट्रॉफी लेते समय अफगानिस्तान की टीम को आमंत्रित किया और दोनों टीमों ने साथ में फोटो लिए.

- खेल समाज को एकजुट करने और हमारे युवाओं का जो कौशल है, उनमें जो प्रतिभा है, उसे खोज निकालने का एक बेहतरीन तरीका है. भारत और अफगानिस्तान दोनों टीमों को मेरी शुभकामनाएं हैं. मुझे उम्मीद है हम आगे भी इसी तरह एक-दूसरे के साथ पूरे स्पोर्ट्समैन स्पिरिट के साथ खेलेंगे भी, खिलेंगे भी.

- योग सभी सीमाओं को तोड़कर, जोड़ने का काम करता है. सैकड़ों देशों के हजारों उत्सारी लोगों ने जाति, धर्म, क्षेत्र, रंग या लिंग हर प्रकार के भेद से परे जाकर इस अवसर को एक बहुत बड़ा उत्सव बना दिया.

- देश को गर्व होता है, जब सवा-सौ करोड़ लोग देखते हैं कि हमारे देश के सुरक्षा बल के जवान, जल-थल और नभ तीनों जगह योग का अभ्यास किया. कुछ वीर सैनिकों ने जहां पनडु्ब्बी में योग किया, वहीं कुछ सैनिकों ने सियाचीन के बर्फीले पहाड़ों पर योगाभ्यास किया.

- हम वो लोग हैं, जो स्वाभवतः मां को भगवान के रूप में पूजते हैं, भगवान के बराबर मानते हैं क्योंकि मां हमें जीवन देती है, मां हमें जन्म देती है, तो कई बार डॉक्टर हमें पुनर्जन्म देता है. डॉक्टर की भूमिका केवल बीमारियों का इलाज करने तक सीमित नहीं है.

- गुरु नानक देव ने समाज में जातिगत भेदभाव को खत्म करने और पूरे मानव जाति को एक मानते हुए उन्हें गले लगाने की शिक्षा दी. गुरु नानक देव कहते थे गरीबों और जरूरतमंदों की सेवा ही भगवान की सेवा है. वे जहां भी गए उन्होंने समाज की भलाई के लिए कई पहल की.

- वर्ष 2019 में जलियांवाला बाग की उस भयानक घटना के भी 100 साल पूरे हो रहे हैं जिसने पूरी मानवता को शर्मसार कर दिया था. 13 अप्रैल, 1919 का वो काला दिन कौन भूल सकता है जब पॉवर का दुरुपयोग करते हुए क्रूरता की सारी हदें पार कर निर्दोष, निहत्थे और मासूम लोगों पर गोलियां चलाई गई थीं. इस घटना के 100 साल पूरे होने वाले हैं. इसे हम कैसे स्मरण करें, हम इस पर सोच सकते हैं.

- बीजेपी के संस्थापक सदस्यों में एक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, उनमें जो सबसे महत्वपूर्ण बात थी, वो थी भारत की अखंडता और एकता. हम हमेशा डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के एकता के संदेश को याद रखें, सद्भाव और भाईचारे की भावना के साथ, भारत की प्रगति के लिए जी-जान से जुटे रहें.

- मोदी ने कहा, भारत का एक समृद्ध इतिहास रहा है. ऐसा कोई महीना नहीं है, जिसमें कोई-न-कोई ऐतिहासिक घटना न घटी हो. भारत में हर जगह की अपनी एक विरासत है. वहां से जुड़ा कोई संत है, कोई महापुरुष है, कोई प्रसिद्ध व्यक्ति है, सभी का अपना-अपना योगदान है, अपना महात्म्य है.

- जीएसटी ईमानदारी की जीत है और ईमानदारी का एक उत्सव भी है. पहले देश में काफी बार टैक्स के मामले में इंस्पेक्टरराज की शिकायत आती रहती थी. जीएसटी में इंस्पेक्टर की जगह आईटी ने ले ली है. रिटर्न से लेकर रिफंड तक सबकुछ ऑनलाइन इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी के द्वारा होती है.

- पीएम मोदी ने कहा, हिंसा और क्रूरता कभी समस्या का समाधान नहीं कर सकते; अहिंसा और शांति की हमेशा जीत होती है.

'मन की बात' आकाशवाणी पर प्रसारित किया जाने वाला एक मासिक कार्यक्रम है, जिसके जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नागरिकों को संबोधित करते हैं.

इस कार्यक्रम का पहला प्रसारण 3 अक्टूबर, 2014 को किया गया था. जनवरी 2015 में अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी उनके साथ इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया था और भारत की जनता के सवालों के जवाब दिए थे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi