S M L

PetroTech 2019 को संबोधित कर रहे हैं पीएम, कहा- क्रूड प्राइसिंग में एक संतुलन लाने की जरूरत

पीएम मोदी ने नोएडा में चल रहे एक्सपो मार्ट में 13वें अंतरराष्ट्रीय तेल-गैस सम्मेलन और पेट्रोटेक-2019 प्रदर्शनी (Petrotech 2019 Exhibition) का उद्घाटन किया

Updated On: Feb 11, 2019 11:34 AM IST

FP Staff

0
PetroTech 2019 को संबोधित कर रहे हैं पीएम, कहा- क्रूड प्राइसिंग में एक संतुलन लाने की जरूरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को नोएडा में चल रहे एक्सपो मार्ट में 13वें अंतरराष्ट्रीय तेल-गैस सम्मेलन और पेट्रोटेक-2019 प्रदर्शनी (Petrotech 2019 Exhibition) का उद्घाटन किया. यहां अपने संबोधन में पीएम ने देश की एनर्जी स्ट्रेटजी पर बात की. उन्होंने कहा कि देश में ऊर्जा के इस्तेमाल में एक बदलाव आया है, जो ऐतिहासिक है.

पीएम ने कहा कि ग्लोबल एनर्जी के क्षेत्र में बदलाव की बयार दिख रही है. ऊर्जा का वितरण, ऊर्जा के स्रोत और ऊर्जा के इस्तेमाल करने के पैटर्न बदल रहे हैं. ये एक ऐतिहासिक बदलाव हो सकता है. उन्होंने कहा कि पश्चिम से पूरब तक ऊर्जा के उपभोग में बदलाव दिखाई दे रहे हैं.

पीएम ने कहा कि सस्ते नवीनीकरणीय ऊर्जा, तकनीकी और डिजिटल एप्लीकेशन्स के बीच एक बदलाव की प्रक्रिया चल रही है. इससे सतत ऊर्जा के विकास के लक्ष्यों को हासिल किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि दुनिया भर के देश क्लाइमेट चेंज से लड़ने के लिए साथ आ रहे हैं.

पीएम ने कहा कि ऊर्जा का लाभ सबको मिले, ये देश को लेकर मेरे प्रमुख उद्देश्यों में शामिल है. इस दिशा में हमने कई नीतियां बनाई हैं और उनका कार्यान्वयन किया है. इसके नतीजे दिखाई भी दे रहे हैं. हमारे गांवों में भी बिजली पहुंची है.

पीएम ने उज्जवला स्कीम पर बोलते हुए कहा कि देश में एक 'ब्लू फ्लेम रिवॉल्यूशन' चल रहा है. इस स्कीम के तहत तीन सालों के अंदर 6 करोड़ से ज्यादा घरों को एलपीजी कनेक्शन मुहैया कराए गए हैं. एलपीजी कवरेज 90 प्रतिशत तक पहुंच गई है, जो पांच साल पहले 55 प्रतिशत थी.

पीएम मोदी ने क्रूड ऑयल के तेल पर भी टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वक्त में दुनिया ने क्रूड की कीमतों में भारी उतार-चढ़ाव देखा है. हमें प्राइसिंग के लिए एक जिम्मेदारी भरा तरीका बनाने की जरूरत है, जिससे प्रोड्यूसर और कंज्यूमर दोनों के हितों के बीच संतुलन बनाया जा सके. उन्होंने ये भी कहा कि हमें तेल और गैस के लिए पारदर्शी और लचीला मार्केट तैयार करने की जरूरत है. तभी हम मानवता के हित में ऊर्जा की जरूरतों को पूरा कर पाएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi