S M L

PM मोदी की 48वीं 'मन की बात': हमने दूसरे की जमीन पर कभी नजरें नहीं गड़ाई, जानिए बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक कार्यक्रम की शुरुआत पराक्रम पर्व से की

Updated On: Sep 30, 2018 12:03 PM IST

FP Staff

0
PM मोदी की 48वीं 'मन की बात': हमने दूसरे की जमीन पर कभी नजरें नहीं गड़ाई, जानिए बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यानी रविवार को देश की जनता को 48वीं बार 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए संबोधित किया. उन्होंने अपने इस मासिक कार्यक्रम की शुरुआत पराक्रम पर्व से की. उन्‍होंने कहा कि यह युवाओं को हमारी सशस्त्र सेना के गौरवपूर्ण विरासत की याद दिलाता है और देश की एकता और अखंडता सुनिश्चित करने के लिए हमें प्रेरित भी करता है. अपने कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने एक-एक कर कई मुद्दों पर बात की.

पीएम मोदी की 'मन की बात' कार्यक्रम की प्रमुख बातें

1. प्रधानमंत्री ने 1918 की हैफा लड़ाई का जिक्र करते हुए कहा कि मैसूर, हैदराबाद और जोधपुर लांसर्स के वीर जवानों ने हैफा को आजादी दिलाई.

2. पीएम ने वायुसेना दिवस के बारे में बात करते हुए कहा कि हमारी वायुसेना सबसे साहसिक और शक्तिशाली एयर फॉर्स में शामिल है. उन्होंने कहा कि ये अपने आप में एक यादगार सफर है.  इसके अलावा उन्होंने राहत और बचान अभियान के दौरान वायुसेना की तरफ से किए बेहतरीन काम की भी तारीफ की. उन्होंने कहा बाढ़ से लेकर जंगल की आग तक, हर तरह की प्राकृतिक आपदा से निपटने का उनका जज्बा अद्भूत है. इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि  देश में स्‍त्री-पुरुष की समानता की दिशा में एयर फॉर्स ने मिसाल पेश की है.

3. कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने 2 अक्टूबर यानी गांधी जयंती को लेकर भी देशवासियों से बात की. उन्होंने कहा इस साल इस वर्ष 2 अक्टूबर एक विशेष महत्व है. अब से 2 साल के लिए हम महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के निमित्त विश्व भर में अनेक विविध कार्यक्रम करने वाले हैं. महात्मा गांधी के विचार ने पूरी दुनिया को प्रेरित किया है.

4. पीएम मोदी ने कहा कि पूज्य बापू लोक संग्राहक थे. उन्होंने प्रत्येक व्यक्ति को ये अनुभव कराया कि वह देश के लिए सबसे महत्वपूर्ण और नितांत आवश्यक है. स्वतंत्रता संग्राम में उनका सबसे बड़ा योगदान ये रहा कि उन्होंने इसे एक व्यापक जन-आंदोलन बना दिया.

5.  पीएम ने कहा कि गांधी जी के इस जंतर को याद करते हुए आने वाले दिनों में हम जब भी कुछ खरीद करें, तब हम जरुर देखें कि हमारी हर खरीदी में किसी-न-किसी देशवासी का भला होना चाहिए. विशेष अवसरों पर खादी और हैंडलूम के उत्पाद खरीदने के बारे में सोचें, इससे अनेक बुनकरों को मदद मिलेगी.

6. वहीं पीएम मोदी ने कमांडर अभिलाष टॉमी के बारे में बात करते हुए कहा कि 'मैंने फओन पर उनसे बात की. बड़ी समस्या से बाहर आने के बाद भी उनका साहस और जोश प्रेरणादायक है. वे देश के युवाओं के लिए मिसाल हैं.'

7. पीएम मोदी ने कहा कि आज राष्ट्रीय स्तर पर मानव अधिकार के काम के साथ-साथ 26 राज्य मानवाधिकार आयोग भी गठन किया है. एक समाज के रूप में हमें मानव अधिकारों के महत्व को समझने और आचरण में लाने की आवश्यकता है- ये ही ‘सब का साथ-सब का विकास’ का आधार है.

8. पीएम ने कहा कि इस बार भारत इतिहास में दुनिया का सबसे बड़ा स्वच्छता सम्मेलन आयोजित कर रहा है. इसका नाम महात्मा गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन है.

9. पीएम मोदी ने देशवासियों से 31 अक्‍टूबर को रन फॉर यूनिटी में शामिल होने का आह्वान किया. उन्‍होंने कहा कि सब से आग्रह है कि 31 अक्टूबर को Run for Unity के जरिए समाज के हर वर्ग को, देश की हर इकाई को एकता के सूत्र में बांधने के हमारे प्रयासों को बल दें. यही सरदार पटेल को अच्छी श्रद्धांजलि होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi