S M L

बीजेपी का गणित: मोदी सरकार में पेट्रोल के बढ़ते दाम, गिरता ग्राफ

बीजेपी इन ग्राफ्स के जरिए बड़ी ही चालाकी से बताना चाह रही है कि प्रतिशत के आधार पर पेट्रोल और डीजल की कीमत में पिछली सरकारों की तुलना बहुत कम वृद्धि हुई है

Updated On: Sep 10, 2018 08:02 PM IST

FP Staff

0
बीजेपी का गणित: मोदी सरकार में पेट्रोल के बढ़ते दाम, गिरता ग्राफ

पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों पर देशभर में प्रदर्शन चल रहे हैं. पिछले कई दिनों से रोजाना पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार वृद्धि हो रही है. यहां तक की पेट्रोल और डीजल के दाम अब तक की अपनी अधिकतम कीमत पर पहुंच चुके हैं. लेकिन ऐसे में भी बीजेपी के गणित में यह बढ़ोतरी पिछली सरकारों की तुलना में काफी कम बताई जा रही है.

बीजेपी ने देशभर में पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के कारण चल रहे प्रदर्शनों के बीच सोमवार को दो ट्वीट किए. इन ट्वीट्स में दिल्ली में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को प्रतिशत के आधार पर बताते हुए ग्राफ शेयर किए हैं.

पेट्रोल की कीमत वाले ग्राफ में बताया गया है कि 16 मई 2004 को दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत थी 33.71 रुपए. जो कि 16 मई 2009 में 20.5 प्रतिशत बढ़ कर हो गई 40.62 रुपए. इसी तरह 16 मई 2014 तक इसकी कीमत 75.8 प्रतिशत बढ़कर 71.41 रुपए पर पहुंच गई. इसके बाद केंद्र की सत्ता में बीजेपी आ गई और उनके कार्यकाल में पेट्रोल के दाम में महज 13 प्रतिशत की वृद्धि हुई और दाम पहुंच गए 80.73 रुपए पर.

इसी तरह डीजल का भी ग्राफ शेयर किया गया है. इस ग्राफ के मुताबिक मई 2004 में दिल्ली में डीजल की खुदरा कीमत थी 21.74 रुपए जो कि 16 मई 2009 तक 42 प्रतिशत बढ़ कर हो गई 30.86 रुपए. यही कीमत 16 मई 2014 तक 83.7 प्रतिशत बढ़ कर हो गई 56.71 रुपए प्रति लीटर. इसके बाद बीजेपी के शासन में 10 सितंबर 2018 को डीजल की कीमत है 72.83 रुपए, मतलब 16 मई 2014 से इसकी मौजूदा कीमत में 28 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है. जो कि पिछली सरकारों के दौरान बढ़ी कीमतों के प्रतिशत से कम है.

बीजेपी इन ग्राफ्स के जरिए बड़ी ही चालाकी से बताना चाह रही है कि प्रतिशत के आधार पर पेट्रोल और डीजल की कीमत में पिछली सरकारों की तुलना बहुत कम वृद्धि हुई है. लेकिन एक हकीकत यह भी है कि पेट्रोल की कीमत अब तक के सर्वधिक दामों पर पहुंच गई है और केंद्र में नरेंद्र मोदी की ही सरकार है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi