S M L

देश के विकास के लिए लोगों में आपसी सहयोग की जरुरत: भागवत

उन्होंने कहा कि लोगों को हर चीज के लिए सरकार पर निर्भर नहीं होना चाहिए, देश आत्मनिर्भर है और इसमें बहुत आत्मसम्मान है

Bhasha Updated On: Mar 01, 2018 12:41 PM IST

0
देश के विकास के लिए लोगों में आपसी सहयोग की जरुरत: भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने देश के विकास के लिए नागरिकों के बीच सहयोग की पैरवी करते हुए कहा कि लोगों को हर चीज के लिए सरकार पर निर्भर नहीं होना चाहिए. देश आत्मनिर्भर है और इसमें बहुत आत्मसम्मान है.

दिवंगत लक्ष्मणराव इनामदार के नाम पर निर्मित राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) के प्रशिक्षण केंद्र का शुभारंभ करते हुए भागवत ने देश में लोगों के बीच आपसी सहयोग की अहमियत के बारे में बात की. इमानदार संघ के एक नेता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शक थे.

भागवत ने सहयोग की अहमियत पर जोर देते हुए कहा कि ऐसे समाज की जरुरत नहीं है जो खाली बैठता है और हर चीज के लिए सरकार की ओर देखता है. जिस देश के पास आत्मसम्मान है, वह विकास कर सकता है. ऐसा समाज जो सरकार पर निर्भर नहीं हो, वह लोगों के बीच परस्पर सहयोग से सक्षम बन सकता है.

देश में सहकारिता आंदोलन पर चर्चा करते हुए भागवत ने कहा कि भले ही सहकारिता का आधुनिक मॉडल विदेश से आया हो लेकिन ऐसी अवधारणा पहले से है.

उन्होंने कहा कि सहयोग और सहभागिता ऐसे गुण हैं जिन्हें आरएसएस के कार्यकर्ताओं को सिखाया जाता है.

वकील साहब के नाम से मशहूर इमानदार के बारे में भागवत ने कहा कि उन्होंने खुद उनके साथ काम किया है. उन्होंने कहा, ‘कई वर्षो तक वह (इमानदार) गुजरात में संघ की गतिविधियों के प्रभारी थे और उन्होंने हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संघ में शामिल किया था और उनके मार्गदर्शक भी थे.’

उन्होंने कहा कि मोदी ने अपनी पुस्तक ज्योति पुंज में इनामदार के बारे में लिखा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi