S M L

औद्योगिक विकास और युवाओं को रोजगार देने से पटना बनेगा स्मार्ट सिटीः पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और ओडिशा को गैस पाइपलाइन से जोड़ा जा रहा है

Updated On: Feb 17, 2019 02:32 PM IST

FP Staff

0
औद्योगिक विकास और युवाओं को रोजगार देने से पटना बनेगा स्मार्ट सिटीः पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के बरौनी में वीडियो लिंक के जरिए पटना मेट्रो रेल प्रोजेक्ट की आधारशिला रखी. प्राप्त जानकारी के अनुसार पटना में मेट्रो की कुल लंबाई 31.39 KM होगी. आधारशिला रखे जाने के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी प्रधानमंत्री के साथ कार्यक्रम में मौजूद थे. इसके बाद पीएम मोदी ने एक जनसभा को भी संबोधित किया. सबसे पहले उन्होंने पुलवामा आतंकी हमले पर कहा- देशवासियों के दिल में जो आग लगी है वही आग मेरे अंदर भी धधक रही है. पुलवामा हमले में बिहार से शहीद हुए दो CRPF जवानों को पूरा देश नमन करता है. उन्होंने कहा- मैं पटना से शहीद कांस्टेबल संजय कुमार सिन्हा और भागलपुर के शहीद रतन कुमार ठाकुर को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं जिन्होंने देश के लिए अपना बलिदान दिया. मैं उनके परिवारों के साथ अपनी सहानुभूति व्यक्त करता हूं.

उन्होंने कहा- आज यहां हजारों करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया है. इनमें पटना शहर को स्मार्ट बनाने और बिहार के औद्योगिक विकास एवं युवाओं को रोजगार देने से जुड़ी योजनाएं शामिल हैं. उन्होंने लोगों को बताया कि प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और ओडिशा को गैस पाइपलाइन से जोड़ा जा रहा है. उन्होंने कहा- मैं पटनावासियों को बधाई देता हूं, क्योंकि पाटलिपुत्र अब मेट्रो रेल से जुड़ने वाला है. 13,000 करोड़ रुपए की इस परियोजना को वर्तमान के साथ भविष्य को जरूरतों को ध्यान में रखते हुए विकसित किया जा रहा है.

ऊर्जा गंगा परियोजना से बरौनी में फिर से शुरू किए जा रहे फर्टिलाइजर कारखाने को गैस उपलब्ध होगी. पटना में पाइप के जरिए गैस पहुंचाने का कार्य होगा, CNG से गाड़ियां चल पाएंगी और हजारों परिवारों को अब पाइप वाली गैस मिलने लगेगी. उन्होंने कहा- हमारी सरकार की विकास यात्रा दो पटरियों पर एक साथ चल रही है. इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़ी योजनाएं, औद्योगिक विकास और लोगों को आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराना. उन वंचितों, शोषितों, पीड़ितों का जीवन आसान बनाना जो पिछले 70 वर्षों से मूलभूत सुविधाओं के लिए संघर्ष रहें थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi