S M L

पाकिस्तान ने Pok में कश्मीरियों की पहचान बदल दी है: आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत

जनरल बिपिन रावत ने कश्मीर में थोड़ी सी भी शांति होने पर सुरक्षा बलों को वापस 'बैरक' में भेजने के सुझावों पर असहमति भी जताई है

Updated On: Nov 29, 2018 09:03 AM IST

FP Staff

0
पाकिस्तान ने Pok में कश्मीरियों की पहचान बदल दी है: आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत

आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि पाकिस्तान ने पाक के कब्जे वाले कश्मीर की जनसांख्यिकी को बदल दिया है और उस तरफ के कश्मीरियों की पहचान योजनाबद्ध तरीके से खत्म कर दी है. बता दें कि जनरल बिपिन रावत ने यह बयान उस समय दिया है जब करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच बेहतर रिश्तों की उम्मीद की जा रही है. सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने कश्मीर में थोड़ी सी भी शांति होने पर सुरक्षा बलों को वापस 'बैरक' में भेजने के सुझावों पर असहमति भी जताई है. उनका मानना है कि इससे आतंकवादियों को अपने नेटवर्क को फिर से जिंदा करने का पूरा वक्त मिल जाएगा.

वहीं उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए लगातार दबाव बनाए रखने की जरूरत है. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर का संदर्भ देते हुए जनरल रावत ने कहा, पाकिस्तान ने बहुत ही चालाकी से तथाकथित पाक अधिकृत कश्मीर, गिलगित-बाल्टिस्तान की जनसांख्यिकी बदल डाली है. इस बारे में निश्चित नहीं हुआ जा सकता कि असल कश्मीरी कौन हैं.

उन्होंने कहा, 'क्या वह कश्मीरी है या पंजाबी है जो वहां आया और उस इलाके में कब्जा कर लिया. गिलगित-बाल्टिस्तान के लोग भी अब धीरे-धीरे वहां आकर बसने लगे हैं. अगर हमारे तरफ के कश्मीरियों और दूसरे तरफ के कश्मीरियों के बीच कोई पहचान है तो यह पहचान वाली चीज धीरे-धीरे खत्म हो चुकी है. यह ऐसा मुद्दा है जिस पर हमें गौर करना चाहिए. आर्मी चीफ ने कहा, स्थिति नियंत्रण में आ जाएगी और चीजें नियंत्रण में आ भी चुकी हैं लेकिन लगातार दबाव बनाए रखने की जरूरत है. रावत ने कहा कि स्थिति को उस स्तर तक लाना होगा जहां आतंकवादी समूह फिर से सिर न उठा पाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi