S M L

पाकिस्तान: पहले सिख पुलिस अधिकारी के साथ बदसलूकी, मारपीट कर घर से निकाला

गुलाब सिंह ने कहा मेरे साथ ऐसा सलूक किया जा रहा है जैसा चोरों-डाकुओं के साथ किया जाता है

FP Staff Updated On: Jul 11, 2018 08:53 AM IST

0
पाकिस्तान: पहले सिख पुलिस अधिकारी के साथ बदसलूकी, मारपीट कर घर से निकाला

पाकिस्तान के पहले सिख पुलिस अधिकारी गुलाब सिंह के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है, जिसमें पुलिस ने उनके साथ मारपीट कर उन्हें जबरन घर से निकाल दिया. दरअसल गुलाब सिंह लाहौर के डेरा चलक इलाके में रहते हैं. पाकिस्तान की पुलिस ने उनके साथ मारपीट की और उन्हें जबरन घर से निकाल दिया. इतना ही नहीं , उनकी पगड़ी खोलकर भी फेंक दी गई. इस दौरान गुलाब सिंह पुलिस से अनुरोध करते रह गए कि घर खाली करने के लिए उन्हें 10 मिनट का वक्त दिया जाए. लेकिन पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी. गुलाब सिंह लाहौर के अपने घर में 1947 से रह रहे थे.

न्यूज एजेंसी एएनआई ने इस मामले का एक वीडियो भी जारी किया है. इस वीडियो में गुलाब सिंह कह रहे हैं, 'मैं गुलाब सिंह पाकिस्तान का पहला सिख ट्रैफिक वॉर्डन हूं. मेरे साथ ऐसा सलूक किया जा रहा है जैसा चोरों-डाकुओं के साथ किया जाता है. मुझे मेरे घर से घसीटकर बाहर निकाला गया और मेरे घर में ताले लगा दिए गए.'

'लोगों को खुश करने के लिए ऐसा किया'

गुलाब सिंह ने कहा है कि 'तारिक वजीर एडिशनल सेक्रटरी और तारा सिंह जो पाकिस्तान गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी का भूतपूर्व प्रधान है, दोनों ने लोगों को खुश करने के लिए यह काम किया है. अदालत में मेरे खिलाफ केस भी चल रहे हैं. इस पूरे गांव में सिर्फ मुझे ही निशाना बनाया जा रहा है और मेरा घर खाली करवाया गया है. आप देख सकते हैं मेरे सिर पर पगड़ी भी नहीं है. वे मेरी पगड़ी भी छीनकर ले गए और उन्होंने मेरे बाल भी खींचे हैं.'

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार की घटनाएं नई नहीं हैं. एक महीने पहले ही पाकिस्तान के खैबर पख्तूनवा प्रांत के पेशावर में सिख धर्मगुरु चरणजीत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi