S M L

पाक आर्मी चीफ ने कहा, क्यों ना दोनों पंजाबों के बीच बनाया जाए तीर्थ यात्रा मार्ग: सिद्धू

बाजवा ने सिद्धू से दोनों देशों के पंजाब प्रांतों के बीच सिख तीर्थ यात्राओं के लिए एक मार्ग बनाने की बात कही

Updated On: Aug 19, 2018 07:22 PM IST

FP Staff

0
पाक आर्मी चीफ ने कहा, क्यों ना दोनों पंजाबों के बीच बनाया जाए तीर्थ यात्रा मार्ग: सिद्धू

शनिवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ के दौरान पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू की ओर सब की निगाहें थी. खासकर तब, जब सिद्धू ने पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा को गले लगाया.

सिद्धू जनरल बाजवा के साथ बातचीत करते हुए भी देखे गए. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक बाजवा ने सिद्धू से दोनों देशों के पंजाब प्रांतों के बीच सिख तीर्थ यात्राओं के लिए एक मार्ग बनाने की बात कही.

हालांकि सिद्धू ने समारोह के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की. जिसमें उन्होंने बताया कि पाक आर्मी चीफ ने उनसे 2019 में पाकिस्तान के करतारपुर में गुरू नानक साहब के 550वें जन्म उत्सव पर एक मार्ग बनाने की बात कही. सिद्धू के मुताबिक जनरल बाजवा ने उनसे पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में स्थित सिख धार्मिक स्थल ननकाना साहब तक के लिए भी एक सड़क मार्ग बनाने की इच्छा भी जाहिर की थी.

मैं राजनेता नहीं दोस्त बनकर आया हूं

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक क्रिकेट प्रेमी बाजवा ने भारत के साथ संबंध सुधारने का जिक्र भी किया. सिद्धू ने कहा, 'जनरल बाजवा साहब ने मुझे गले से लगाया और कहा कि हम शांति चाहते हैं.'

सिद्धू ने पाकिस्तान पहुंचते ही कहा कि वह भारत के गुडविल एंबेस्डर बनकर प्यार का संदेश लेकर आए हैं. उन्होंने कहा, 'मैं यहां राजनेता बनकर नहीं आया हूं बल्कि दोस्त के नाते आया हूं. मैं यहां अपने दोस्त इमरान की खुशी में शामिल होने आया हूं.'

बता दें कि पंजाब सरकार में मंत्री सिद्धू को मसूद खान के पास वाली सीट दी गई थी. मसूद खान पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के राष्ट्रपति हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi