S M L

पद्मावती विरोध: नाहरगढ़ किले पर शव के साथ धमकी, 'हम पुतले नहीं जलाते, लटका देते हैं'

इस धमकी ने पद्मावती के खिलाफ विरोध को जानलेवा मोड़ तक पहुंचा दिया है

Updated On: Nov 24, 2017 03:31 PM IST

FP Staff

0
पद्मावती विरोध: नाहरगढ़ किले पर शव के साथ धमकी, 'हम पुतले नहीं जलाते, लटका देते हैं'

फिल्म पद्मावती को लेकर चल रहा विरोध अब खतरनाक स्तर तक  पहुंच गया है. जयपुर के पास स्थित नाहरगढ़ के किले से एक व्यक्ति का शव लटका हुआ पाया गया है जिसके साथ एक धमकी भी दी गई है. धमकी में लिखा गया है कि हम पुतले नहीं जलाते लटका देते हैं.

padmavati-row-1

नाहरगढ़ किले की दीवार के साथ शव लटका मिला है. शव के पास ही एक पत्थर पड़ा था. पत्थर पर ही ये धमकी लिखी गई थी. इस पूरी घटना का वीडियो रोंगटे खड़े करना वाला है. पद्मावती के विरोध से इस हत्या का जुड़ना मामले को संगीन बना गया है.

जयपुर के नाहरगढ़ किले के पास इस शव के मिलने से हड़कंप मच गया है. ब्रह्मपुरी थाने के अफसर मौके पर जांच कर रहे हैं. अभी तक ये साफ नहीं हो पाया है कि ये हत्या का मामला है या फिर खुदकुशी है. इस हत्या के साथ पद्मावती विरोध के कनेक्शन ने मामले को बड़ा बना दिया है. पुलिस  इस मामले की तफ्तीश करेगी कि हत्या का ये मामला पद्मावती के विरोध से जुड़ता है भी या नहीं.

padmavati-row3-1

पुलिस ने मृतक की पहचान कर ली है. पुलिस ने कहा है कि उसे आधार कार्ड मिला है. मरने वाले युवक का नाम चेतन है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद इस मामले में और जानकारी देंगे.

एक अंदेशा ये भी है कि किसी साजिश के तहत हत्या को जानबूझकर पद्मावती के विरोध से जोड़ा गया हो. किले पर लटकती मिली लाश किसकी है, ये अभी पता नहीं चल पाया है. मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को किले से उतार लिया है. इसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है. इस बीच दिल्ली हाईकोर्ट ने पद्मावती को लेकर एक्सपर्ट पैनल गठित करने को लेकर दायर याचिका खारिज कर दी है.

करणी सेना ने की निंदा

'पद्मावती का विरोध' शीर्षक से दी गई धमकी में कहा गया है कि हम पुतले नहीं जलाते, लटका देते हैं. हालांकि करणी सेना ने इस घटना की निंदा की है और कहा है कि उनका इससे कोई लेना-देना नहीं है. करणी सेना के प्रमुख लोकेद्र सिंह कल्वी ने इस मामले पर कहा है कि विरोध का ये तरीका गलत है. राजपूत करणी सेना के सदस्य महिपाल सिंह मकराना ने कहा है कि हमारे विरोध का ये तरीका नहीं है. मैं लोगों से कहना चाहूंगा कि इस तरह के कदम न उठाएं

padmavati

नाहरगढ़ का यह किला 1734 में महाराज सवाई जय सिंह द्वितीय ने बनवाया था. बीजेपी नेता वैभव अग्रवाल ने नाहरगढ़ किले की दीवार पर युवक के शव को लटकाए जाने पर कहा कि ये सब बहुत आगे बढ़ गया है. मौके का कोई और फायदा उठा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi