S M L

पद्मावत रिलीज: गुजरात में सुरक्षा कारणों से बस सेवाएं रद्द

पद्मावत के विरोध में उतरे राजपूत संगठनों के खिलाफ गुजरात में 15 शिकायतें दर्ज कराई गई हैं

Updated On: Jan 21, 2018 05:08 PM IST

FP Staff

0
पद्मावत रिलीज: गुजरात में सुरक्षा कारणों से बस सेवाएं रद्द
Loading...

फिल्‍म पद्मावत के विरोध के चलते मेहसाणा में ही 8 बसों को आग के हवाले किए जाने के बाद गुजरात में सरकारी बसों की सेवा बंद करने का फैसला किया गया है. गुजरात के महसाणा के अलावा बनासकांठा, साबरकांठा,अरावली जिलों में सरकारी बसों पर रोक लगा दी गई है. हमलावर विरोध के चलते इलाकों में अभी तक करीब 3 हजार से ज्‍यादा फेरे रद्द कर दिए गए हैं.

करणी सेना और राजपूत संगठनों का विरोध हिंसक होता जा रहा है. मेहसाणा में हिंसक हुए विरोध में बसों में आग लगा दी गई. इसके बाद परिवहन विभाग ने पद्मावत के विरोध वाले इलाकों में बसें न भेजने का फैसला किया है. प्रशासन का कहना है कि एहतियातन बस सेवा पर रोक लगाई गई है.

पद्मावत का विरोध प्रदर्शन राजस्‍थान और गुजरात में बड़ा रूप ले चुका है. जहां राजस्‍थान में कई किलों को करणी सेना बंद करने का एलान कर चुकी है, वहीं गुजरात में हाइवे जाम कर प्रदर्शन किया जा रहा है.

इस बीच पद्मावत के विरोध में उतरे राजपूत संगठनों के खिलाफ गुजरात में 15 शिकायतें दर्ज कराई गई हैं. इन शिकायतों में कई जगहों पर आगजनी और तोड़फोड़ के अलावा थिएटर मालिकों को डराना-धमकाना शामिल है. इस मामले में गुजरात के इंचार्ज डीजीपी प्रमोद कुमार का कहना है कि राज्‍य में सुरक्षा व्‍यवस्‍था तीन गुना बढ़ा दी गई है. दोषियों को छो‍ड़ा नहीं जाएगा.

डीजीपी प्रमोद ने कहा कि पूरे गुजरात में करणी सेना और अन्‍य संगठनों ने तोड़फोड़ और आगजनी की है. इनके खिलाफ कुल 15 शिकायतें मिली हैं. ऐसे में पुलिस की ओर से संवेदनशील इलाकों में पेट्रोलिंग बढ़ाने के आदेश दिए गए हैं. पद्मावत के संबंध में सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइंस को सख्ती से फॉलो किया जाएगा. साथ ही पुलिस ने सभी संगठनों से संयम बरतने की अपील की है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi