S M L

पद्मावतः MP और राजस्थान सरकार की SC में याचिका, देशभर में विरोध

25 जनवरी को यह फिल्म रिलीज होने को तैयार है, उससे पहले ही राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है

FP Staff Updated On: Jan 22, 2018 12:14 PM IST

0
पद्मावतः MP और राजस्थान सरकार की SC में याचिका, देशभर में विरोध

संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत का विरोध जारी है. सुप्रीम कोर्ट ने 4 राज्यों द्वारा इस फिल्म की रिलीज को रोकने के फैसले को खारिज कर दिया था. कोर्ट के फैसले के बाद भी करणी सेना और राजपूत संगठन इसका विरोध कर रहे हैं. कई जगह हिंसक घटनाएं भी हुईं हैं.

25 जनवरी को यह फिल्म रिलीज होने को तैयार है. उससे पहले ही राजस्थान और मध्य प्रदेश सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है. इनकी मांग है कि सुप्रीम कोर्ट चार राज्यों में फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के अपने पहले के आदेश में संशोधन करे. सुप्रीम कोर्ट इस मामले की 23 जनवरी को सुनवाई करेगी.

दूसरी तरफ देश के अलग-अलग हिस्सों में इस फिल्म को लेकर लगातार विरोध हो रहा है. हरियाणा, गुजरात, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार समेत पूरे देश से फिल्म की खिलाफ विरोध प्रदर्शन की खबरें आ रही हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, कुरुक्षेत्र के मॉल में तोड़फोड़ की गई है. यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है.

हरियाणा सरकार में मंत्री अनिल विज ने थिएटरों को सुरक्षा देने की बात कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि किसी भी स्वाभिमानी और देशभक्त इंसान को यह फिल्म नहीं देखनी चाहिए. उनके इस तरह के बयानों से साफ जाहिर होता है कि फिल्म को लेकर हरियाणा में भी माहौल ठीक नहीं है.

जैसे-जैसे फिल्म रिलीज की तारीख नजदीक आ रही है करणी सेना इसको प्रदर्शित होने से रोकने की हरसंभव कोशिश कर रही है. गुड़गांव के थिएटर मालिकों को पर्चे बांटकर फिल्म की स्क्रीनिंग रोकने की हिदायत भी दी गई है.

एनसीआर के इलाकों में भी फिल्म का जमकर विरोध किया जा रहा है. राजपूत संगठन के लोगों ने फिल्म को लेकर नोएडा से दिल्ली को जोड़ने वाले डीएनडी फ्लाईओवर पर भी जमकर प्रदर्शन किया. आते-जाते लोगों को मारा भी गया और सड़क पर जो पाया उसे आग के हवाले कर दिया. उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में फिल्म को लेकर प्रदर्शन हो रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi