S M L

पद्मश्री कृष्ण कन्हाई ने बनाया अटल बिहारी वाजपेयी का लाइफ साइज पोट्रेट, जानें कौन हैं वो?

मशहूर चित्रकार कृष्ण कन्हाई का जन्म 21 अगस्त 1961 को हुआ, वह एक भारतीय कलाकार और चित्रकार हैं, उनकी पेंटिंग यथार्थवादी, समकालीन चित्रों के विशेषज्ञ और भगवान राधा-कृष्ण थीम चित्रों पर आधारित है

Updated On: Feb 12, 2019 01:01 PM IST

FP Staff

0
पद्मश्री कृष्ण कन्हाई ने बनाया अटल बिहारी वाजपेयी का लाइफ साइज पोट्रेट, जानें कौन हैं वो?

संसद भवन के सेंट्रल हॉल में 12 फरवरी को पूर्व प्रधानमंत्री और बीजेपी के दिवंगत नेता अटल बिहारी वाजपेयी का लाइफ साइज पोट्रेट लगाया जाएगा. कुछ दिनों पहले ही लोकसभा सचिवालय ने इसकी जानकारी दी थी. सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सेंट्रल हॉल में अटल बिहारी वाजपेयी के पोट्र्रेट का अनावरण करेंगे. इस कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद रहेंगे.

इस फोटो को चित्रकार कृष्ण कन्हाई ने तैयार किया है

संसद की पोट्रेट कमेटी की अध्यक्ष और लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने 12 फरवरी को वाजपेयी का लाइफ साइज पोट्रेट लगाए जाने की तारीख का फैसला किया था. इस फोटो को चित्रकार कृष्ण कन्हाई ने तैयार किया है. संसद के सेंट्रल हॉल में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी समेत स्वतंत्रता संग्राम के सैनानियों और देश के महापुरुषों के लाइफ साइज पोट्रेट पहले से लगे हुए हैं. इस तस्वीर को बनाने वाले मशहूर चित्रकार पद्मश्री कृष्ण कन्हाई के बारे में आइए जानते हैं कुछ खास बातेंः

उनका जन्म उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के वृंदावन में हुआ

मशहूर चित्रकार कृष्ण कन्हाई का जन्म 21 अगस्त 1961 को हुआ. वह एक भारतीय कलाकार और चित्रकार हैं. उनकी पेंटिंग यथार्थवादी, समकालीन चित्रों के विशेषज्ञ और भगवान राधा-कृष्ण थीम चित्रों पर आधारित है. कन्हाई सोने की पत्तियों और मणि पत्थरों का उपयोग करके चित्रकला बनाने की पारंपरिक पद्धति के मास्टर हैं. उनका जन्म उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के वृंदावन में हुआ था. उन्होंने अपने पिता पद्मश्री श्री कन्हाई चित्रकार से कला सीखी. कृष्ण वृंदावन में उनके कन्हाई आर्ट वर्क्स से परंपरा को आगे बढ़ाया जाता है.

भारत सरकार ने साल 2004 में उन्हें पद्मश्री सम्मान प्रदान किया

उन्हें 1999 में अचीवर ऑफ द मिलेनियिम अवॉर्ड से नवाजा गया था. भारत सरकार ने साल 2004 में उन्हें पद्मश्री सम्मान प्रदान किया. इसके अलावा उन्हें 2009-10 के लिए राष्ट्रीय कालीदास अवॉर्ड और उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें 2015 में यश भारती पुरस्कार से सम्मानित किया था. हाल ही में अगस्त 2016 में, कृष्ण कन्हाई ने उत्तर प्रदेश विधानसभा के लिए 40 पोर्ट्रेट पेंटिंग बनाईं. इसके अलावा सभी पूर्व मुख्य मंत्रियों की 20 पोर्ट्रेट पेंटिंग, विधानसभा स्पीकर की 18 पोर्ट्रेट पेंटिंग और महात्मा गांधी की एक पोर्टेट पेंटिग बनाई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi