विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

उत्तराखंडः 'आधार' में एक गांव के 800 लोगों का जन्मदिन 1 जनवरी

मुख्य विकास अधिकारी स्वाति भदौरिया ने बताया कि 800 लोगों की जन्म तिथि एक होना बड़ी गलती है. बिना सत्यापन जन्म तिथि दर्ज नहीं की जा सकती

FP Staff Updated On: Oct 28, 2017 01:02 PM IST

0
उत्तराखंडः 'आधार' में एक गांव के 800 लोगों का जन्मदिन 1 जनवरी

उत्तराखंड के एक गांव के 800 लोगों का जन्मदिन एक ही दिन यानी एक जनवरी है. ऐसी गड़बड़ी हुई आधार कार्ड में. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक यहां गेंडीखाता वन गुर्जर बस्ती के 800 लोगों के आधार कार्ड पर एक ही जन्म तारीख दर्ज है.

गेंडीखाता वन गुर्जर बस्ती में लगभग 5 हजार की आबादी है. बस्ती में अधिकांश लोग अशिक्षित हैं. ग्रामीणों को यह नहीं पता कि आधार कार्ड में किन कागजातों की डिटेल भरी जाती है.

आधार कार्ड बना रहे एजेंसी ने जो कागजात मांगे, ग्रामीणों ने जमा कर दिए. इसके बावजूद 800 लोगों के आधार कार्ड की गलत डिटेल अपलोड कर दी गई.

मुख्य विकास अधिकारी स्वाति भदौरिया ने बताया कि 800 लोगों की जन्म तिथि एक होना बड़ी गलती है. बिना सत्यापन जन्म तिथि दर्ज नहीं की जा सकती. एजेंसी की लापरवाही सामने आने पर एजेंसी का लाइसेंस निरस्त कर दिया जाएगा.

उन्होंने बताया कि एजेंसी को भविष्य में कैंप लगाने की अनुमति नहीं दी जाएगी. हालांकि इस संबंध में अभी तक उनके पास कोई शिकायत नहीं आई है.

हरिद्वार के एक गांव के तकरीबन 800 लोगों के आधार कार्ड पर जन्म की तारीख 1 जनवरी लिखी है. निश्चित तौर पर यह किसी गलती का ही परिणाम है लेकिन इस महत्वपूर्ण दस्तावेज में इतनी बड़ी गलती होना छोटा मामला नहीं है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi