S M L

कार्यकाल के अंतिम दिन भावुक हुए CJI दीपक मिश्रा... वकील को अपने लिए गाना गाने से रोका

दीपक मिश्रा की रिटायरमेंट के बाद जस्टिस रंजन गोगोई 3 अक्टूबर को देश के नए चीफ जस्टिस के तौर पर शपथ लेंगे

Updated On: Oct 01, 2018 05:08 PM IST

FP Staff

0
कार्यकाल के अंतिम दिन भावुक हुए CJI दीपक मिश्रा... वकील को अपने लिए गाना गाने से रोका

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के तौर पर दीपक मिश्रा का सोमवार को अंतिम कार्यदिवस था. अदालत की कमान आखिरी बार संभालते वक्त उनके साथ जस्टिस रंजन गोगोई भी थे, जो उनकी रिटायरमेंट के बाद 3 अक्टूबर से इस पद को संभालेंगे.

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के अनुसार सीजेआई दीपक मिश्रा, जिन्होंने बीते 10 दिनों में आधार, समलैंगिकता और सबरीमाला जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर फैसले सुनाने वाले बेंच की अध्यक्षता की महज 25 मिनट तक चली अदालत की कार्रवाई के दौरान भावुक नजर आए. कार्रवाई के अंत में एक वकील ने जब उनकी लंबी उम्र की कामना करते हुए 'तुम जियो हजारों साल...' गाना गाना शुरू किया तो उन्होंने अपने अंदाज में उन्हें फौरन रोकते हुए कहा, 'अभी मैं अपने दिल से बोल रहा हूं, शाम को मैं अपने दिमाग से बात करूंगा.'

इस दौरान भावी चीफ जस्टिस रंजन गोगोई और जस्टिस ए.एम. खानविलकर भी वहां बेंच पर बैठे हुए थे. उन्होंने कहा कि सोमवार को किसी भी महत्वपूर्ण मामले की सुनवाई नहीं होगी. बल्कि इसकी सुनवाई 3 अक्टूबर को अगले चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली बेंच करेगी.

judgments-Misra-hindi

इस दौरान वहां मौजूद वकील आर पी लूथरा ने रिटायर हो रहे चीफ जस्टिस के खिलाफ वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंग और वकील प्रशांत भूषण के किए दो कथित विवादास्पद ट्विट्स का जिक्र किया, जिसमें उनके हाल में लिए निर्णयों को लेकर सवाल उठाए गए थे. इसमें भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले में फैसला भी शामिल था. उन्होंने अदालत से इन कथित विवादास्पद ट्विट्स पर संज्ञान लेने की अपील की मगर बेंच ने इसपर जवाब नहीं दिया.

जस्टिस दीपक मिश्रा की 17 जनवरी, 1996 को ओडिशा हाईकोर्ट में अतिरिक्त जज के तौर पर नियुक्ति हुई थी. यहां से उनका तबादला मध्य प्रदेश हाईकोर्ट में हो गया था. वो 19 दिसंबर, 1997 को स्थायी जज बने. इसके बाद 23 दिसंबर, 2009 को वो पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस बने. 24 मई, 2010 को दीपक मिश्रा दिल्ली हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस बने. यहां से प्रमोशन पाकर वो 10 अक्टूबर, 2011 को सुप्रीम कोर्ट पहुंचे. फिर 28 अगस्त, 2017 को दीपक मिश्रा देश के चीफ जस्टिस बने.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi