S M L

ऑनलाइन यात्रा सेवा प्रदाताओं और होटलों के विवाद में सरकार से हस्तक्षेप की मांग

द फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन्स ऑफ इंडिया (एफएचआरएआई) ने सरकार से ऑनलाइन यात्रा सेवा प्रदाताओं (ओटीए) और होटलों के बीच चल रहे विवाद के समाधान के लिए हस्तक्षेप का आग्रह किया है.

Updated On: Dec 29, 2018 09:06 PM IST

Bhasha

0
ऑनलाइन यात्रा सेवा प्रदाताओं और होटलों के विवाद में सरकार से हस्तक्षेप की मांग

द फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन्स ऑफ इंडिया (एफएचआरएआई) ने सरकार से ऑनलाइन यात्रा सेवा प्रदाताओं (ओटीए) और होटलों के बीच चल रहे विवाद के समाधान के लिए हस्तक्षेप का आग्रह किया है. इसके लिए एफएचआरएआई ने पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस को एक पत्र भी लिखा है.

वहीं एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि एफएचआरएआई ने पर्यटन मंत्री केजे अल्फोंस को पत्र लिखकर उद्योग के सामने खड़ी चुनौतियों को रेखांकित करते हुए होटल उद्योग की शिकायतों के समाधान के लिए तत्काल हस्तक्षेप का आग्रह किया है. एफएचआरएआई के उपाध्यक्ष गुरबख्शीस सिंह कोहली ने कहा, 'ओटीए की अनुचित कारोबारी रणनीतियों के चलते होटल उद्योग और खासकर किफायती और मध्यम श्रेणी के होटलों को नुकसान उठाना पड़ रहा है.

ओटीए के गलत क्रियाकलापों के कारण छोटे होटलों की आजीविका के साथ ही कारोबार भी काफी प्रभावित हो रहा है. स्थानीय और शहर के होटल संघों से जुड़े इन होटलों ने एफएचआरएआई से संपर्क किया और राय के साथ समर्थन मांगा और फेडरेशन के साथ एकजुटता दिखाई है. उन्होंने कहा कि एफएचआरएआई ने ओटीए के साथ बात करके मामले को सुलझाने की कोशिश भी की लेकिन ओटीए ने इस मामले में एफएचआरएआई की भूमिका को पूरी तरह से दरकिनार कर दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi