S M L

25 जून को ब्लैक डे मनाकर '1975 की इमरजेंसी' का विरोध करेगी बीजेपी

25 जून 1975 को इंदिरा गांधी की सरकार ने इमरजेंसी लगाई गई थी

Updated On: Jun 18, 2018 07:08 PM IST

FP Staff

0
25 जून को ब्लैक डे मनाकर '1975 की इमरजेंसी' का विरोध करेगी बीजेपी

बीजेपी ने ऐलान किया है कि वह 25 जून को ब्लैक डे मनाएगी. 1975 में इसी दिन इंदिरा गांधी की सरकार में इमरजेंसी लगाई गई थी. 25 और 26 जून 1975 की रात इमरजेंसी के आदेश पर राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद ने हस्ताक्षर किए थे जिसके बाद देश में इमरजेंसी लागू हो गई थी.

अगली सुबह रेडियो पर इंदिरा ने पूरे देश को बताया था कि भाइयों और बहनों, राष्ट्रपति जी ने आपातकाल की घोषणा की है. हालांकि इससे डरने की जरूरत नहीं है. लेकिन पूरे देश में गिरफ्तारियों का दौर शुरू हो गया था.

दिल्ली के बहादुर शाह जफर मार्ग पर स्थित अखबारों के ऑफिसों की बिजली काट दी गई थी. इंदिरा के विशेष सहायक आर के धवन के कमरे में वह लिस्ट बन रही थी जिन लोगों को गिरफ्तार किया जाना था. संजय गांधी और ओम मेहता यह लिस्ट बना रहे थे.

26 जून की सुबह तक जयप्रकाश नारायण, मोरारजी देसाई समेत तमाम बड़े नेता गिरफ्तार किए जा चुके थे. इमरजेंसी ने इंदिरा सरकार को असीमित अधिकार दे दिए थे. मीसा कानून और डीआईआर के तहत देश में एक लाख ग्यारह हजार लोग जेल में डाल दिए गए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi