S M L

ओला-उबर ड्राइवरों की हड़ताल: MNS नेता ने कैब की विंडशील्ड तोड़ी

एमएनएस नेता नितिन नंदगांवकर ने हड़ताल के दौरान शहर में चल रही एक कैब का विंडशील्ड डंडे से मारकर तोड़ दिया और ड्राइवर को गाड़ी हटाने की धमकी दी.

FP Staff Updated On: Mar 19, 2018 01:20 PM IST

0
ओला-उबर ड्राइवरों की हड़ताल: MNS नेता ने कैब की विंडशील्ड तोड़ी

मुंबई में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने सोमवार को ओला-उबर के लगभग 80,000 ड्राइवरों की हड़ताल बुलाई है. इस हड़ताल से मुंबई, पुणे, दिल्ली-एनसीआर, बेंगलुरु, हैदराबाद प्रभावित होने वाले हैं. लेकिन एमएनएस की ओर से शांतिपूर्ण विरोध का आश्वासन उनके ही नेता तोड़ रहे हैं.

एमएनएस नेता नितिन नंदगांवकर ने हड़ताल के दौरान शहर में चल रही एक कैब का विंडशील्ड डंडे से मारकर तोड़ दिया और ड्राइवर को गाड़ी हटाने की धमकी दी.

हड़ताल का आह्वान करते हुए एमएनएस के प्रेसिडेंट संजय नाइक ने कहा है कि ये विरोध प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहेगा. अगर कोई ड्राइवर हिंसा करता है तो वो उनसे हाथ जोड़कर मना करेंगे, अगर ऐसा नहीं होता है तो वो हालात से एमएनएस स्टाइल में निपटेंगे. लेकिन लगता है कि उनके नेता ही एमएनएस स्टाइल में हिंसा करने पर उतर आए हैं.

बता दें कि मोबाइल ऐप पर टैक्सी बुकिंग करने की सुविधा देने वाली कंपनी उबर और ओला से जुड़े ड्राइवरों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है. एमएनएस की ओर से बुलाए गए इस हड़ताल का मुख्य मुद्दा ड्राइवरों के काम करने के हालात में सुधार लाना है. इस हड़ताल के समर्थन में देशभर में लगभग 80 हजार ड्राइवरों के ऑफलाइन रहने की बात की गई है.

अभी एक महीने पहले भी नितिन गडगांवकर अपने रवैये के चलते सुर्खियों में आ गए थे. उन्होंने मुंबई एयरपोर्ट पर एक कैब ड्राइवर को यूनिफॉर्म न पहनने और बैज न लगाने को लेकर उठक-बैठक कराया था.

नांदगांवकर ने इस घटना का वीडियो फेसबुक पर भी अपलोड किया. अपने पोस्ट में उन्होंने कहा था कि पब्लिक की सुरक्षा को खतरा है क्योंकि बिना बैज और यूनिफॉर्म वाले अवैध टैक्सी और ऑटो ड्राइवर्स घूमते रहते हैं. उन्हें इसलिए ऐसा करने की आजादी मिल पा रही है क्योंकि पुलिस और आरटीओ चंद पैसों के लिए उन्हें जाने देते हैं. अगर अब कोई भी ड्राइवर बिना बैज या यूनिफॉर्म के पकड़ा जाता है तो वो ऐसी परिस्थिति के लिए तैयार रहे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
गोल्डन गर्ल मनिका बत्रा और उनके कोच संदीप से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi