S M L

मीटिंग में लेट आए दो रेवेन्यू इंस्पेक्टर तो अधिकारी ने कराई उठक-बैठक

केंद्रपाड़ा के कलेक्टर रघु जी ने कहा कहा, 'जांच के बाद घटना सही पाई गई. एडीएम का इस तरह का बर्ताव अनुचित है'

Updated On: May 17, 2018 06:39 PM IST

Bhasha

0
मीटिंग में लेट आए दो रेवेन्यू इंस्पेक्टर तो अधिकारी ने कराई उठक-बैठक

ओडिशा के केंद्रपाड़ा जिले में एक वरिष्ठ अधिकारी ने राजनगर में एक बैठक में दो रेवेन्यू इंस्पेक्टर के देरी से पहुंचने पर उन्हें सजा के तौर पर कथित रूप से उठक-बैठक करने के लिए मजबूर किया. पीड़ितों ने गुरुवार को इस संबंध में जिला कलेक्टर को लिखित में शिकायत दी और आरोप लगाया कि अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) बसंत कुमार राउत ने मंगलवार को तहसील दफ्तर की बैठक के दौरान उन्हें उठक - बैठक के लिए मजबूर किया.

बैठक सुबह साढ़े नौ बजे होने वाली थी. रीघागड़ा और गुप्ती राजस्व सर्किल के ये दोनों रेवेन्यू इंस्पेक्टर बैठक में 15 मिनट की देरी से पहुंचे थे. वरिष्ठ अधिकारी ने पहले तो उन्हें इसके लिए झिड़की लगाई और फिर अन्य सहकर्मियों के सामने उठक-बैठक करने को कहा.

केंद्रपाड़ा के कलेक्टर रघु जी ने कहा कहा, 'जांच के बाद घटना सही पाई गई. एडीएम का इस तरह का बर्ताव अनुचित है. उनसे राजस्व निरीक्षकों के प्रतिनिधिमंडल से बिना शर्त माफी मांगने के लिए कहा गया है.' राजनगर तहसीलदर निहार रंजन मलिक ने बताया कि राजस्व निरीक्षकों को एडीएम के निर्देश पर उठक-बैठक के लिए कहा गया. उन्हें इसलिए सजा दी गई क्योंकि वे बैठक में करीब 15 मिनट की देरी से पहुंचे.

एडीएम बसंत कुमार राउत से संपर्क नहीं हो सका क्योंकि उनका फोन बंद आ रहा है. अखिल ओडिशा राजस्व निरीक्षक संघ के पदाधिकारी दुखीश्याम पांडा ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. गुप्ती के रेवेन्यू इंस्पेक्टर करुणाकर मलिक ने कहा , 'यह बहुत अमानवीय अनुभव था. मैं अब भी सदमे में हूं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi