S M L

लेखिका गीता मेहता का 'पद्म श्री' सम्मान लेने से इनकार, बोलीं- इससे मेरी होगी शर्मिंदगी

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की बहन गीता मेहता ने कहा कि लोकसभा चुनाव से चंद महीने पहले दिए गए इस सम्मान से गलत संदेश जाएगा. उन्होंने इस संबंध में बयान जारी कर कहा कि यह कदम सरकार और उनके लिए शर्मिंदगी का सबब बन सकता है

Updated On: Jan 26, 2019 10:08 AM IST

FP Staff

0
लेखिका गीता मेहता का 'पद्म श्री' सम्मान लेने से इनकार, बोलीं- इससे मेरी होगी शर्मिंदगी

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की बहन और प्रसिद्ध लेखिका गीता मेहता ने 'पद्म श्री' सम्मान लेने से इनकार कर दिया है. गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर शुक्रवार को केंद्र सरकार की ओर से उन्हें इस सम्मान से नवाजे जाने का ऐलान किया गया था.

अमेरिका के न्यूयॉर्क में रह रहीं गीता मेहता ने कहा कि लोकसभा चुनाव से चंद महीने पहले दिए गए इस सम्मान से गलत संदेश जाएगा. मेहता ने इस संबंध में बयान जारी कर कहा कि यह कदम सरकार और उनके लिए शर्मिंदगी का सबब बन सकता है.

गीता मेहता ने बयान में कहा, 'मैं इस बात से बेहद सम्मानित महसूस कर रही हूं कि सरकार ने मुझे 'पद्म श्री' सम्मान के लायक समझा, लेकिन मुझे बहुत ही अफसोस के साथ इसे लेने से मना करना पड़ रहा है. देश में लोकसभा के चुनाव नजदीक हैं और अवॉर्ड की टाइमिंग से समाज में गलत संदेश जाएगा, जो मेरे और सरकार दोनों के लिए शर्मिंदगी की बात होगी. इस बात का मुझे हमेशा अफसोस रहेगा.'

वहीं ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 'पद्म श्री' सम्मान हासिल करने वाले राज्य के सभी गणमान्य लोगों को बधाई दी है.

बता दें कि कुछ महीने पहले गीता और उनके पति सोनी मेहता ने कथित रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी. तकरीबन डेढ़ घंटे चली इस मुलाकात को लोकसभा चुनाव से पहले नवीन पटनायक को बीजेपी के करीब लाने की कोशिशों की तरह देखा गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi