S M L

ओडिशा में 10 साल की बच्ची के साथ रेप, आरोपी गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान उसी गांव के गतिकृष्ण दालेई के तौर पर हुई. अदालत ने उसकी जमानत याचिका ठुकरा दी और 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया

Updated On: Apr 23, 2018 06:35 PM IST

Bhasha

0
ओडिशा में 10 साल की बच्ची के साथ रेप, आरोपी गिरफ्तार

देश भर में बच्चियों के साथ रेप की घटनाएं लगातार सामने आ रही है. इस  बीच ओडिशा के जाजपुर जिले से 10 साल की बच्ची के साथ रेप की एक और घटना सामने आई है. बताया जा रहा है कि गांव के  एक 35 साल के युवक ने इस घटना को अंजाम दिया.

जाजपुर के एसडीपीओ प्रशांत कुमार मलहा ने बताया कि शुक्रवार की शाम जाजपुर जिले के एक गांव में 10 वर्षीय लड़की से दुष्कर्म किया गया. लड़की के पिता की शिकायत के आधार पर आरोपी को गिरफ्तार कर कल जेल भेज दिया गया.  पुलिस ने बताया कि आरोपी की पहचान उसी गांव के गतिकृष्ण दालेई के तौर पर हुई. अदालत ने उसकी जमानत याचिका ठुकरा दी और 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

लड़की के पिता की शिकायत के आधार पर आरोपी शुक्रवार की शाम लड़की के घर पहुंचा और कोल्ड ड्रिंक पिलाने के नाम पर उसकी बेटी को ले गया.

एक घंटे बाद जब लड़की नहीं लौटी तो उसकी तलाश शुरू की गई और सदर थाने में एक रिपोर्ट दर्ज कराई गई. शनिवार की शाम ईंट भट्ठी के पास लड़की बेहोशी की हालत में मिली और उसके शरीर से काफी खून बह रहा था.

एसडीपीओ ने बताया कि आरोपी ने पुलिस के सामने अपना अपराध कबूल कर लिया है. पुलिस ने बताया कि आरोपी को भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं और पोक्सो कानून के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार कर लिया गया.

विपक्ष ने बलात्कार की घटनाओं पर मुख्यमंत्री के बयान की मांग की

उधर नाबालिगों के साथ बढ़ती रेप की घटनाओं के बीच ओडिशा विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ. इसके बाद विधानसभा को बार-बार स्थगित भी करना पड़ा. प्रश्नकाल के लिए सदस्यों के सदन में एकत्रित होने पर विपक्षी विधायकों ने अध्यक्ष की कुर्सी के पास जाकर मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से इस मुद्दे पर बयान की मांग की.

सदस्यों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और अध्यक्ष प्रदीप कुमार अमात के बार बार अनुरोध करने के बावजूद अपनी सीटों पर जाने से इंकार किया.सदन की कार्यवाही नहीं चलने पर उन्होंने कार्यवाही साढे ग्यारह बजे तक स्थगित कर दी. शून्य काल के लिए सदन के फिर से बैठने पर विपक्ष के नेता नरसिंह मिश्रा ने नाबालिगों के यौन उत्पीड़न की हाल की घटनाओं पर राज्य सरकार की आलोचना की.

मुख्यमंत्री पर विपक्षी सदस्यों के सवालों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाते हुए मिश्रा ने कहा , ‘तीन दिन पहले जब विधानसभा में महिला सुरक्षा पर सवाल खड़े किए गए तो वह ( मुख्यमंत्री ) इस मुद्दे पर एक शब्द भी नहीं बोले.’ बीजेपी विधायक रबी नाइक ने कहा कि मुख्यमंत्री को इस मुददे पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi