S M L

चक्रवात तितली: मरने वालों की संख्या हुई 27, विपक्ष का दावा- मृतकों के असली आंकड़ों को छिपा रही है सरकार

बैठक में जिले में प्रभावित हर परिवार को 50 किलोग्राम चावल, ढाई लीटर केरोसिन और एक हजार रुपए नकद देने का फैसला लिया गया

Updated On: Oct 16, 2018 12:55 PM IST

Bhasha

0
चक्रवात तितली: मरने वालों की संख्या हुई 27, विपक्ष का दावा- मृतकों के असली आंकड़ों को छिपा रही है सरकार
Loading...

तितली चक्रवात के कारण ओडिशा में मरने वालों की संख्या अब 27 हो गई है. दरअसल इस मामले में ओडिशा से सोमवार को 3 और शव बरामद किए गए जिसके बाद ये आंकड़ा बढ़कर 27 पर पहुंच गया. ऐसे में अब बचाव अभियान में जुटी टीमों ने भी ऑपरेशन तेज कर दिया है.

अधिकारियों ने बताया कि गजपति जिले के रायगडा मंडल में तीन और शव बरामद किए गए.

चक्रवात से सबसे ज्यादा प्रभावित गजपति जिले का दौरा करने वाले मुख्य सचिव ए पी पाधी ने कहा, ‘रायगडा मंडल में भूस्खलन की घटना में 18 लोगों की मौत हो गई. शवों का पोस्टमार्टम किया गया.’

गजपति से लौटते समय पाधी ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व में एक समीक्षा बैठक में भाग लिया. बैठक में जिले में प्रभावित हर परिवार को 50 किलोग्राम चावल, ढाई लीटर केरोसिन और एक हजार रुपए नकद देने का फैसला लिया गया.

पाधी ने कहा कि गजपति और गंजाम जिलों समेत राज्य के कई हिस्सों में स्थिति में सुधार हुआ है. उन्होंने बताया कि भोजन वितरण कार्य मंगलवार से शुरू किया जाएगा.

जिन लोगों के मकान चक्रवात और बाढ़ में क्षतिग्रस्त हुए हैं उन्हें पॉलीथीन शीट दी जा रही हैं. गजपति के सभी मंडल मुख्यालयों तक बिजली की आपूर्ति मंगलवार शाम तक बहाल कर दी जाएगी.

विपक्ष का दावा-  मृतकों के असली आंकड़ों को छिपा रही है सरकार 

इस बीच, बीजेपी, कांग्रेस और सीपीएम समेत विपक्षी दलों ने दावा किया कि राज्य सरकार मृतकों के असली आंकड़ों को छिपा रही है.

ओडिशा बीजेपी के महासचिव भृगु बक्शीपात्रा ने कहा, ‘कल तक नवीन पटनायक सरकार किसी भी मौत को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं थी जबकि अकेले गजपति जिले में ही 20 पोस्टमार्टम किए जा चुके हैं. सरकार झूठ बोल रही है और छिपा रही है. हमारे पास अभी तक 25 मृतकों के नाम हैं और हम अन्य नाम भी इकट्ठे कर रहे हैं. जब सभी नाम मिल जाएंगे तो हम मीडिया के सामने इसका खुलासा करेंगे.’

सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा, ‘राज्य में हमारी पार्टी के पास राज्य सरकार के आंकड़ों से ज्यादा मौतों की जानकारी है.’

ओडिशा प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष निरंजन पटनायक ने कहा, ‘ऐसे समय में जब 45 लोग पहले ही मारे जा चुके हैं और लोग मर रहे हैं और खाने के लिए भोजन नहीं है तो एक भी व्यक्ति के ना मारे जाने का दावा करके ओडिशा सरकार ने राज्य की जनता को धोखा दिया है.’

 

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi