S M L

देश में कानून-व्यवस्था ठीक नहीं, तभी हो रहीं मॉब लिंचिंग की घटनाएं: मुस्लिम संगठन

जमाअत इस्लामी हिन्द के जनरल सेक्रेटरी मोहम्मद सलीम इंजीनियर ने कहा कि सभी अल्पसख्यंक वर्ग के नुमाइंदों और हिंदू भाइयों के साथ जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिलेगा

Updated On: Aug 04, 2018 05:33 PM IST

FP Staff

0
देश में कानून-व्यवस्था ठीक नहीं, तभी हो रहीं मॉब लिंचिंग की घटनाएं: मुस्लिम संगठन

जमाअत इस्लामी हिन्द का कहना है कि दिनों दिन बढ़ती मॉब लिंचिंग की घटनाएं यह दर्शाती हैं कि देश में कानून-व्यवस्था की हालत ठीक नहीं है.

संगठन के उपाध्यक्ष नुसरत अली ने कहा, देश में लॉ एंड आर्डर के हालात अच्छे नहीं हैं. सरकार का कोई नियंत्रण नहीं रह गया है. मॉब लिंचिंग पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी को भी दरकिनार कर घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है.

न्यूज18 हिंदी से बातचीत में नुसरत अली ने उस बैठक का हवाला दिया जिसमें संगठन ने दूसरे मजहब के लोगों को भी बुलाया था और विस्तृत चर्चा की थी. बैठक में सिख, ईसाई, बौद्ध धर्म के लोग शामिल हुए थे. हिंदू धर्म से भी कुछ लोग बैठक में हिस्सा लेने आए थे. बैठक में इस बात पर चिंता जाहिर की गई कि गाय के नाम पर मॉब लिंचिंग में पहले मुसलमानों को निशाना बनाया गया. अब बच्चा चोरी के आरोप में दलित और आदिवासियों को मारा जा रहा है.

जमात के जनरल सेक्रेटरी मोहम्मद सलीम इंजीनियर ने कहा कि बैठक में तय किया गया कि सभी अल्पसख्यंक वर्ग के नुमाइंदों और बैठक में शामिल हुए हिंदू भाइयों के साथ जल्द ही एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति से मिलेगा. मॉब लिंचिंग के संबंध में उन्हें एक ज्ञापन सौंपा जाएगा.

नुसरत अली ने आगे कहा कि जो लोग मॉब लिंचिंग की घटनाओं में पकड़े जा रहे हैं उन पर कोई सख्त कार्रवाई नहीं हो रही है. उन्हें जल्द ही जमानत देकर छोड़ दिया जा रहा है. उन्हें बड़े-बड़े नेताओं की सरपरस्ती मिली हुई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi