S M L

विश्व के बाद अब भारत में वीगन होटल्स और बिजनेस को बढ़ावा देने की जरूरत है

आप एक वेगन आंत्रप्रेन्योर के रुप में भरपूर नफासत और साहस के साथ लोगों के सामने आ सकते हैं- इसमें नुकसान भी किसी को नहीं हो रहा

Updated On: Feb 12, 2019 02:37 PM IST

Maneka Gandhi Maneka Gandhi

0
विश्व के बाद अब भारत में वीगन होटल्स और बिजनेस को बढ़ावा देने की जरूरत है

शाकाहारी जीवनशैली के लोगों के लिए मौजूद व्यावसायिक अवसरों पर यह मेरा तीसरा लेख है. पहले के दो लेखों में शाकाहारी जीवन शैली के अनुकूल पड़ने वाले उत्पाद (प्रोडक्टस) तथा सेवाओं (सर्विसेज) के निर्माण और मार्केटिंग की जानकारी दी गई थी. इस लेख में वीगन होटल्स तथा रिट्रीट्स की चर्चा की जा रही है.

ऑस्ट्रेलिया में बेड एंड ब्रोक्कॉली (www.bedandbroccoli.com.au) नाम से एक बेड एंड ब्रेकफास्ट सेवा शुरू की गई है. यहां आपको वीगन यानी शाकाहारी जीवनशैली के अनुरूप भोजन, सॉस, जैम, आचार, चटनी, साबुन तथा वीगन क्लीनिंग प्रोडक्ट मिल जाएंगे. बेड एंड ब्रोक्कॉली एनिमल फ्रेंडली (पशु-हितैषी) हैं. ये लोग निस्सहाय छोड़ दिए गए जानवरों की देखभाल करते हैं तथा यहां आने वाले सभी ग्राहकों को कुत्ते और बिल्लियों के दोस्ताना बर्ताव का अहसास होता है. बेड एंड ब्रोक्कॉली के मालिकान का तर्क है कि 'शाकाहारी जीवनशैली अपनाने पर इसके अनुकूल रहने-ठहरने की वेगन सेवा-सुविधाओं का न मिलना ही बेड एंड ब्रोक्कॉली की शुरुआत की प्रेरणा बना.'

दुनिया में बेड एंड ब्रोक्कॉली के तर्ज के हजारों होटल मौजूद हैं. वेजिटेरियन होटल्स की एक साइट शुरू हुई है. इसे दो जर्मन नागरिकों ने शुरू किया है. कोई मुझसे पूछे तो मैं ऐसे एक निहायत खूबसूरत तिब्बती होटल की सिफारिश करूंगी. इसका नाम नोर्बूलिंका है.

नोर्बूलिंका में कुछ सालों पहले मैं रुकी थी. मैंने गूगल सर्च पर वीगन होटल की खोज की तो मुझे आनन-फानन में 12.40 करोड़ रिजल्ट मिले. सबसे ऊपर वीगनहोटल्स.कॉम दिख रहा है और ये लोग सैर-सपाटे की बड़ी दिलकश जगहों का विज्ञापन कर रहे हैं. ऐसी जगहों पर वीगन श्रेणी के होटल्स उपलब्ध बता रहे हैं, जहां आप मान सकते हैं सी-फूड मिलेंगे- यहां आपको मालदीव में मौजूद वीगन होटलों का जिक्र मिल जाएगा.

इनका फूड मेन्यू मानो स्वाद का खजाना है- इस मेन्यू को देखकर कोई भी मांसाहारी अपनी जीवनशैली बदलने को तैयार हो जाए! जब आप वीगन श्रेणी के होटल भारत में खोलें तो इस वेबसाइट पर उस होटल को जरूर ही रजिस्टर्ड करा लीजिएगा.

वीगन नेचर रिट्रीट का विकल्प भी है:

आप वीगन नेचर रिट्रीट खोलने का विकल्प भी चुन सकते हैं. यहां आप लोगों को ना सिर्फ भोजन बल्कि वर्कशॉप (कार्यशाला), ध्यान, फिटनेस सेंटर तथा स्पा और वॉक्स की सेवाएं उपलब्ध करा सकते हैं. आप यहां ऑयल (तेल), पशुओं पर अनपरीक्षित प्रॉडक्ट तथा ऐसी ही चीजों से बने भोजन की भी बिक्री कर सकते हैं. आप चाहें तो अपने सुविधा-केंद्र में सौर-ऊर्जा का इस्तेमाल कर सकते हैं. और हां, ऐसा केंद्र चलाने की सोच रहे हैं तो फिर यहां किसी भी किस्म के दूध का इस्तेमाल मत कीजिएगा क्योंकि तब आपका सेवा-केंद्र वीगन न रह जाएगा.

अगर आप वीगन हैं तो फिर अपने कमरे Airbnb scheme के तहत सिर्फ वेगन यात्रियों के रहने-ठहरने के लिए दे सकते हैं. शाकाहारी जीवनशैली अपना चुके यात्रियों को बड़ी राहत महसूस होगी कि उन्हें घरेलू परिवेश में अपने जीवनशैली के अनुरूप भोजन मिल रहा है.

धन कमाने का एक और तरीका है कि बच्चों के लिए गर्मी और सर्दी की छुट्टियों के दौरान वीगन कैम्प चलाना. कैम्प दो दिन का भी रखा जा सकता है और एक हफ्ते का भी. कैम्प कितने दिनों चलेगा यह बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करता है कि आपने कितनी गतिविधियां बच्चों के बारे में सोच रखी हैं.

आप गतिविधियों में पर्वतारोहण, ट्रेकिंग तथा वॉक्स को शामिल कर सकते हैं. कैम्प में बच्चों के लिए खास गतिविधियों तथा वीगन फूड खाने का मौका तो होगा ही, साथ ही दो चीजें और होंगी: शाकाहारी जीवनशैली के बच्चों को अपने सरीखे बच्चों से मिलने-जुलने का अवसर मिलेगा और बच्चे एक सजग-सचेत जीवन जीने के पीछे के विज्ञान को भी जान पाएंगे.

ये भी पढ़ें: जानवरों के शरीर से पता चलता है कि उनका दिमाग भी इंसानों की तरह ही काम करता है

कैंप मे बच्चों को भोजन की आदतों के बारे में फिल्म दिखाई जा सकती है, बताया जा सकता है कि स्वस्थ जीवन किस तरह संभव है और जीवन-जगत के प्रति आदर-भाव प्रकट करने के क्या तरीके हो सकते हैं. इन बातों को सिखाने पर बच्चे ज्यादा होशमंद बनेंगे और मानव-समाज ज्यादा सभ्य बन सकेगा.

ऐसे कैम्प चलाने में आपके लिए दो वेबसाइट मददगार हो सकते हैं. इनके नाम हैं: KidsMakeaDifference.org तथा VeganCamp.org. बाहर के मुल्कों में ऐसे कैम्प आयोजित करने के कारण बहुत से बच्चे वीगन जीवनशैली अपना चुके हैं.

यूथ एम्पावर्ड एक्शन कैम्प ऐसा ही एक उदाहरण है:

एक आयोजन यूथ एम्पावर्ड एक्शन कैम्प के नाम से होता है. इसकी वेबसाइट है: www.yeacamp.org. गर्मी के दिनों में इस नाम से 12-17 साल के नौजवानों के लिए एक कैम्प चलाया जाता है. कैम्प वैसे नौजवानों के लिए है जो सचमुच दुनिया में कुछ बदलाव करना चाहते हैं.

YEA

वायईए (YEA) नौजवान कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देता है, उन्हें जरूरी ज्ञान, कौशल, आत्मविश्वास तथा समान सोच वाला एक समुदाय मुहैया कराकर एक चेंज-मेकर्स (बदलाव ला सकने वाले कार्यकर्ता) के रूप में गढ़ा जाता है. वाईईए के कैम्प में वीगन फूड परोसे जाते हैं, कैंप में आने के लिए आपका वीगन होना जरूरी नहीं. यह एक अमेरिकी संगठन है लेकिन ऐसी कोई वजह नहीं जो इस तर्ज का संगठन भारत में न शुरू किया जाए.

इवोलोटस् पीआर नाम की एक संस्था सामाजिक कल्याण की गतिविधियों जैसे नॉन-प्रॉफिट्स, डाक्यूमेंटरी फिल्म, एनिमल एडवोकेसी कैम्पेन्स, किताब, सेहत/वेलनेस तथा वीगन प्रॉडक्टस को बढ़ावा देने के लिए काम करती है. इनका उद्देश्य समान सोच वाले संगठन तथा उद्यमों की मदद करना है. इवोलोटस् पीआर ऐसे संगठनों की बातें लोगों तक पहुंचाने और नजरों में लाने का काम करती है. इसका मकसद है ज्यादा टिकाऊ और अमन पसंद दुनिया की रचना करना. इवोलोटस् पीआर के मालिकान का कहना है कि 'इन मामलों पर मीडिया का ध्यान खींचना हमारे लिए एक्टिविज्म का ही एक हिस्सा है.'

श्वेता ठाकुर ने ग्राफिती कोलाबोरेटिव नाम से बंगलुरु में पब्लिक रिलेशन की एक कंपनी खोली है. अपने काम में सफल होने के बाद उनको लगा कि प्रॉडक्टस् तथा भावी स्टार्स के लिए डूडल्स और जिंगल्स बनाने के लिए वो नहीं बनीं. श्वेता को लगा कि उनका दिल लोगों के जीवन जीने के तरीके को बदलने में लगता है. श्वेता ने शाकाहारी जीवनशैली अपनायी और अपनी एजेंसी को वीगन कंपनियों तथा प्रॉडक्टस् को बढ़ावा देने के काम में लगाया.

कुछ माह पहले वे मुझसे मुलाकात के लिए आई थीं. इस मुलाकात का ही नतीजा था कि मेरे मंत्रालय ने ऑर्गेनिक मेले में वीगन शॉप का विकल्प रखा. वाइल्डरफेस्ट के नाम से अब वे स्थायी तौर पर मेले का आयोजन करती हैं. इसकी पहली शुरुआत बंगलुरु में हुई. इसके बाद दिल्ली के सेलेक्ट सिटी मॉल में इसके माध्यम से सैकड़ों प्रॉडक्ट लोगों के सामने आए. इसके अलावा श्वेता की एजेंसी एनिमल ग्रुप्स और डाक्यूमेंटरी फिल्म फेस्टिवल्स के लिए जनसंपर्क का भी काम करती है. आपका जिन बातों पर यकीन है उसे कर दिखाना मुमकिन है. तकलीफ बस उसी घड़ी होती है जब आप वह करने लगते हैं जिसमें आपका दिल नहीं है: मिसाल के लिए, किसी जैन का जिलेटिन बेचना.

वीगन ए’ज कंसल्टिंग ऐसे बिजनेस के लिए खास तौर पर काम करने वाली एक संस्था है:

वीगन बिजनेस तथा ऐसे आंत्र्प्रेन्योर्स के लिए खास तौर पर काम करने वाली एक संस्था है वीगन ए’ज कंसल्टिंग. इससे संपर्क का पता है: simon@veganedgeconsulting.com. यह बिजनेस डेवलपमेंट तथा मार्केटिंग की एजेंसी है और पूरी दुनिया के लिए काम करती है. एजेंसी ब्रांडिंग तथा मार्केटिंग, स्ट्रेटजी तथा प्लानिंग और ग्राफिक डिजाइन एवं वेब डेवलपमेंट की सेवाएं मुहैया कराती है. इसने कई वीगन फेसबुक पेज चला रखे हैं, जैसे: वीगन बिजनेस गाइड, टोरंटो वीगन गाइड, बिकम ए वीगन तथा वीगन मेवेन. भारत में भी वित्तीय सेवा की कोई एजेंसी ऐसी शाखा चला सकती है.

या फिर, आपके पास धन है और आप दुनिया को बदलना चाहते हैं तो फिर क्यों ना क्रूएल्टी फ्री एंजेल इन्वेस्टर फंड की शुरुआत करें. या फिर कोई एथिकल इन्वेस्टर फंड चलाया जा सकता है. इसके मार्फत आप अपने निवेशक को बताएंगे कि आप सिर्फ उन्हीं कंपनियों में रकम लगाएंगे जो पर्यावरण के लिहाज से टिकाऊ तथा शाकाहारी जीवनशैली के अनुरूप हों. क्रूएल्टी फ्री सुपर नाम से एक ऑस्ट्रेलियाई सुपरफंड चलता है.

सोशल मीडिया के जरिए इसका प्रचार-प्रसार होता है. यह वीगन जीवनशैली को बढ़ावा देने के मकसद से बना सुपरफंड है और यह उन्ही व्यावसायिक गतिविधियों में निवेश करता है जो क्रूएल्टी फ्री प्रिन्सिपल्स को आधार मानकर चलती हैं. साल 2010 में ली कोएटस् ओबीई ने एथिकल मनी पीटीवाय लिमिटेड की स्थापना की. वीगन बिजनेस की इस पहलकदमी के जरिए पशुओं के प्रति क्रूरता के बरताव से भरी वित्तीय व्यवस्था में क्रूएल्टी फ्री प्रिन्सिपल्स के लिए गुंजाइश बनी है.

VEGAN 2

बेशक ऐसे विचार को जमीन पर उतारना मुमकिन है- बस आमदनी थोड़ी कम होगी. वीगन प्रोफेशनल्स का एक फेसबुक पेज भी चलाया जा सकता है.

द मैजिक वीगन के नाम से कंपनी शुरु की जाए?

एक खास विचार मुझे बहुत आकर्षित करता है- मुझे मन ही मन जादू की तलाश रहती है और यह खास विचार मेरे मन की इसी बात के ज्यादा करीब है. विचार यह है कि क्यों ना द मैजिक वीगन नाम से एक कंपनी की शुरुआत की जाए. जो भी इस पहल में भागीदार हो उसे हर महीने एक मिस्ट्री बॉक्स भेजा जाय.

सदस्य के रूप में मुझे हर माह एक मिस्ट्री बॉक्स मिलेगा और इस बॉक्स में होंगे कई तरह के वीगन प्रॉडक्टस जैसे कपड़े, जूते, क्रीम तथा फूड्स. आप बॉक्स में रखी जाने वाली चीजों में गेम्स, डाई, बीज, वीगन होटल्स के कूपन्स भी जोड़ सकते हैं. इसमें हर प्रॉडक्ट की कंपनी का पता भी मुहैया कराया जाएगा ताकि आपको कोई प्रॉडक्ट अच्छा लगे तो आप उसे बनाने वाली कंपनी से सीधे मंगा सकें. आप कंपनी से थोक भाव की दर से प्रॉडक्ट खरीदेंगे और महीने की सदस्यता के तौर पर जो शुल्क वसूलते हैं, उसी दर पर आप वह प्रॉडक्ट मुझे खुदरा में बेच देंगे. अगर विचार चल निकलता है तो फिर बर्थडे और वेडिंग प्रेजेन्ट के तौर पर टीएमवी मेम्बरशिप भी दी जा सकती है. अच्छा रहेगा कि कोई इस विचार पर जल्द से जल्द अमल करे!

आप एक वेगन आंत्रप्रेन्योर के रूप में भरपूर नफासत और साहस के साथ लोगों के सामने आ सकते हैं- इसमें नुकसान भी किसी को नहीं हो रहा. आप कुदरत की खूबसूरती और उसके खजाने का इस्तेमाल कर रहे हैं और साथ ही धरती पर रहने वाले पशुओं और मनुष्यों के लिए उसे भरेपूरे रूप में बचा हुआ छोड़ भी रहे हैं. शाकाहारी जीवनशैली के लोगों को लगातार सीखना होता है, खुद को शिक्षित करना होता है, समुदाय की सेवा के लिए तैयार रहना पड़ता है. उन्हें कारोबार में धन कमाने के लिए ईमानदारी, हमदर्दी तथा प्रेम के जज्बे से चलना होता है. और, आपके पास इतना है तो फिर इससे अधिक आपको और क्या चाहिए.

ये भी पढ़ें: शाकाहारी उत्पादों की मांग मुख्यधारा में शामिल, आपूर्ति के लिए करने होंगे ठोस इंतजाम

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi