S M L

झोपड़पट्टी में रहने का 'एहसास' सिर्फ 2280 रुपए में!

ये आइडिया एक एनजीओ में काम करने वाले डच कार्यकर्ता डेविड बिजिल के दिमाग में आया था, जिनका मकसद परिवार के लिए अतिरिक्त आय का स्रोत बनाना था

Updated On: Oct 05, 2018 09:04 PM IST

FP Staff

0
झोपड़पट्टी में रहने का 'एहसास' सिर्फ 2280 रुपए में!

हॉलीवुड फिल्मों में हमेशा ही भारत को गरीब, गंदगी से भरा और झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले देश की तरह दिखाया जाता है. इन्होंने हमेशा ही भारत को सतही तौर पर उसकी झूठी तस्वीर दिखाई. इसी छवि को और अधिक नजदीक से दिखाने के लिए अब मुंबई में एक 'झोपड़पट्टी होटल' खोला गया है. यहां $31 या 2280 रुपए देकर आप एक झोपड़ी के एक कमरे में रह सकते हैं.

इस होटल को एक साल पहले एक झोपड़पट्टी वासी ने ही खोला था. मुंबई के खार डांडा झोपड़पट्टी में रहने वाले रवि सांसी के दिमागी की उपज है ये होटल. बिल्डिंग के मालिक सांसी ने अपने घर के मचान को एक कमरे में बदल दिया है. इस कमरे में एक एसी और एक टीवी लगा है और दीवारों को पेंट कर दिया गया है. हालांकि यह रहन सहन एक झोपड़पट्टी के रहन सहन से बिल्कुल अलग है, जिस तरीके से खुद सांसी और बाकी लोग रहते हैं.

उनके फेसबुक पेज पर कुछ पोस्ट किए गए हैं, जो दीवारों से पेंट गिरने और बाथरुम दूसरों के साथ शेयर करने जैसे स्लम के जीवन की असलियत से रू-ब-रू कराते हैं.

सबसे पहले ये आइडिया एक एनजीओ में काम करने वाले डच कार्यकर्ता डेविड बिजिल के दिमाग में आया था. बिजिल ने बताया कि इस 'होटल' का मकसद परिवार के लिए अतिरिक्त आय का स्रोत बनाना था. इसके साथ ही इस पहल का मतलब 'उन दो समूहों के बीच के अंतर को खत्म करना था जो आम तौर पर कभी नहीं मिलेंगे.'

हालांकि, इस पहल की कई लोगों ने आलोचना की है और उन्होंने इसे गरीबी या 'पोवर्टी पॉर्न' बताया. कुछ लोगों ने ये भी कहा कि ये आइडिया स्लम में रहने वाले लोगों को 'चिड़ियाघर में रहने वाले जानवरों' के बराबर रख रहा है.

ट्विटर पर लोगों ने इसकी कई बार आलोचना की है-

हालांकि ये कोई पहली बार नहीं है जब विवादास्पद कामों के लिए कलाकारों और उद्यमियों की आलोचना की गई है. हाल ही में एक फोटोग्राफर ने भारत में भूखे गरीब लोगों के सामने नकली भोजन रखकर एक फोटो सीरीज पेश की थी. लोगों ने इसकी भी खूब आलोचना की थी.

न्यूज18 के लिए राका मुखर्जी की रिपोर्ट

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi