S M L

नोएडा की ईशा बहल 24 घंटे के लिए बनी भारत में ब्रिटिश हाई कमिश्नर

ईशा ने कहा कि उन्हें जो मौका मिला, वो बेहद खास है. एक दिन राजदूत बनकर उन्होंने जाना कि भारत और ब्रिटेन के संबंध कितने गहरे हैं

Updated On: Oct 09, 2018 03:34 PM IST

FP Staff

0
नोएडा की ईशा बहल 24 घंटे के लिए बनी भारत में ब्रिटिश हाई कमिश्नर

ब्रिटेन ने नारी शक्ति का सम्मान करते हुए नोएडा की रहने वाली ईशा बहल को भारत में एक दिन के लिए अपना उच्‍चायुक्‍त (हाई कमिश्नर) बनने का अवसर दिया. 11 अक्टूबर को होने वाले अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के आयोजन से जुड़ी एक प्रतियोगिता में इशा का चयन हुआ था. सोमवार (8 अक्टूबर) को ईशा दिन भर दिल्ली स्थित ब्रिटिश हाई कमिशन में उच्‍चायुक्‍त के रूप में काम करती रहीं.

ब्रिटिश हाई कमिशन ने 18 से 23 साल के बीच की लड़कियों के बीच एक प्रतियोगिता का आयोजन किया था. इसमें हिस्सा लेने वाली प्रतिभागी को एक वीडियो प्रेजेंटेशन देकर बताना था कि उनके लिए जेंडर इक्वालिटी का मतलब क्या है. इसमें नोएडा के एमिटी यूनिवर्सिटी में पॉलिटिकल साइंस की छात्रा ईशा बहल जीती थीं. इस प्रतियोगिता में देश भर से 58 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था.

विजयी ईशा ने कहा कि उन्हें जो मौका मिला, वो बेहद खास है. एक दिन राजदूत बनकर उसने जाना कि भारत और ब्रिटेन के संबंध कितने गहरे हैं. ब्रिटिश हाई कमिश्नर डोमिनिक एस्क्विथ ने कहा कि वो ईशा से बहुत प्रभावित हैं. सोमवार को वो पूरे दिन डिप्टी हाई कमिश्नर के रूप में काम करते रहे.

ईशा ने सोमवार को चार्ज लेने के बाद कई कामों को पूरा किया. उन्होंने इस दौरान कई बैठक की और कुछ जगहों का दौरा भी किया. इसी सिलसिले में वो बतौर ब्रिटिश हाई कमिश्नर गुरुग्राम भी गईं और वहां चल रहे प्रॉजेक्ट का मुआयना किया. ब्रिटिश उच्‍चायुक्‍त का दावा है कि वो भारत में महिलाओं के कल्याण के लिए कई प्रॉजेक्ट पर काम कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi