विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

आगरा लेबोरेटरी में नहीं भेजा गया कोई सैंपल : यूपी प्रमुख सचिव

12 जुलाई को विधानसभा की सफाई के दौरान कर्मचारियों को पुड़िया में लिपटा पाउडरनुमा पदार्थ मिला था

Bhasha Updated On: Jul 19, 2017 08:02 PM IST

0
आगरा लेबोरेटरी में नहीं भेजा गया कोई सैंपल : यूपी प्रमुख सचिव

उत्तर प्रदेश सरकार ने स्पष्ट किया है कि आगरा की फॉरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला में संदिग्ध पाउडर का कोई नमूना नहीं भेजा गया है क्योंकि वहां की लैब के पास अपेक्षित जांच की मशीनें नहीं हैं.

प्रमुख सचिव (गृह) अरविंद कुमार ने कहा, 'मीडिया के कुछ वर्गों में खबरें आईं कि आगरा के एफएसएल में कराई गई जांच में पता चला है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा के सदन में मिला संदिग्ध पदार्थ पीईटीएन नहीं है.'

उन्होंने कहा, 'इस संबंध में मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि आगरा की एफएसएल को कोई नमूना नहीं भेजा गया है क्योंकि उसके पास अपेक्षित जांच की मशीनें ही नहीं हैं.' कुमार ने कहा कि वस्तुस्थिति यह है कि लखनऊ की एसएफएसएल ने 14 जुलाई की रिपोर्ट में कहा कि विस्फोटक का पता लगाने वाली किट के जरिए किया गया प्रारंभिक परीक्षण दर्शाता है कि पाया गया पदार्थ पीईटीएन है.

उन्होंने कहा कि एसएफएसएल लखनऊ में दो अन्य परीक्षण भी किए जा रहे हैं, जिनकी रिपोर्ट गुरूवार को आने की संभावना है.

12 जुलाई को यूपी विधानसभा की सफाई के दौरान कर्मचारियों को एक पुड़िया में लिपटा पाउडरनुमा पदार्थ मिला था. इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में बयान देकर सभी को सूचित किया था कि मिला हुआ पदार्थ अत्यंत शक्तिशाली विस्फोटक पीईटीएन जिसकी पहचान आसान नहीं है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi