S M L

कुंभ 2019: 'शाकाहारी और संस्कारी' पुलिसवालों की लगेगी ड्यूटी, देना होगा इंटरव्यू

कुंभ मेले में सुरक्षा के लिए तैनात किए जाने वाले पुलिस अफसरों का इंटरव्यू एसपी लेंगे और जांच पूरी होने के बाद उन्हें 'अच्छा चरित्र प्रमाण पत्र' भी दिया जाएगा

Updated On: Sep 28, 2018 12:29 PM IST

FP Staff

0
कुंभ 2019: 'शाकाहारी और संस्कारी' पुलिसवालों की लगेगी ड्यूटी, देना होगा इंटरव्यू

इलाहाबाद जिला प्रशासन ने साल 2019 के कुंभ मेले में हिस्सा लेने वाले लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस न पहुंचे इसके लिए एक अनोखी योजना बनाई है.

इस योजना के तहत शाकाहारी, अल्कोहल का सेवन न करने वाले, धुम्रपान न करने वाले और विनम्र बोली बोलने वाले पुलिस बलों को ही 15 जनवरी 2019 से शुरू होने वाले कुंभ मेले की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी. सिर्फ इतना ही नहीं कुंभ मेले में सुरक्षा के लिए तैनात किए जाने वाले इन पुलिस अफसरों का इंटरव्यू एसपी लेंगे और जांच पूरी होने के बाद उन्हें 'अच्छा चरित्र प्रमाण पत्र' भी दिया जाएगा. आपको बता दें कि इस मेले में दुनियाभर से लोग हिस्सा लेते हैं, इस मेले के साथ उनकी धार्मिक भावनाएं जुड़ी होती हैं.

पुलिस अफसरों का लिया जाएगा पर्सनल इंटरव्यू

न्यूज18 की खबर के मुताबिक, डीआईजी (कुंभ) केपी सिंह ने बताया कि शाहजहांपुर, पीलीभीत, बरेली और बंदायू जैसे जिलों के एसएसपी को हिदायत दी गई है कि कुंभ 2019 में ड्यूटी पर तैनात होने वाले पुलिस अफसरों की जांच वह खुद करें. विभाग ने पहले ही यह घोषणा कर दी है कि इस बार मेले में उन अफसरों की ही ड्यूटी लगाई जाएगी जो कि शाकाहारी हों, शराब और सिगरेट नहीं पीते हों और लोगों से विनम्रता से बात करते हों.

उन्होंने कहा कि सभी जिलों के एसएसपी को लिखित में बता दिया गया है कि वह हर पुलिस अफसर का पर्सनल इंटरव्यू लें. ऐसा इसलिए क्योंकि मेले की सिक्योरिटी के लिए राज्य के कोने-कोने से पुलिस अफसर बुलाए गए हैं.

पुलिस अफसरों की आयुसीमा भी तय की गई

इसके अलावा जिला प्रशासन यह भी देख रहा है कि जिन अफसरों की ड्यूटी मेले में लगाई जाएगी वह इलाहाबाद के मूल निवासी नहीं होने चाहिए. वहीं पुलिस अफसरों की आयुसीमा भी तय की गई है. कुंभ में तैनात होने वाले कॉन्सटेबलों की आयु 35 वर्ष निर्धारित की गई है जबकि हेड कॉन्सटेबलों की उम्र 40 और सब इंस्पेक्टरों की उम्र 45 वर्ष तय की गई है.

आपको बता दें कि 4 चरणों में पुलिस बलों की तैनाती 10 अक्टूबर 2018 से शुरू की जाएगी. सबसे पहले अक्टूबर महीने में 10 फीसदी पुलिस बलों की तैनाती होगी. इसके बाद नवंबर महीने में दूसरे चरण के तहत 40 प्रतिशत पुलिस बल की तैनाती होगी. वहीं दिसंबर महीने में तीसरे और चौथे चरण में 25 फीसदी पुलिस बलों की तैनाती की जाएगी जिसमें पैरामिलिट्री फोर्सेस भी शामिल होंगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi