S M L

नीरव मोदी का भारत लौटने से इनकार, कहा- राजनीतिक फायदे के लिए हो रहा है इस्तेमाल

नीरव मोदी ने कहा, मैंने कुछ भी गलत नहीं किया. पीएनबी स्कैम सिविल ट्रांजेक्शन था और इसे उस मामले से अलग तूल दिया जा रहा है.

Updated On: Jan 05, 2019 07:41 PM IST

FP Staff

0
नीरव मोदी का भारत लौटने से इनकार, कहा- राजनीतिक फायदे के लिए हो रहा है इस्तेमाल

भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने भारत लौटने से इनकार कर दिया है. नीरव मोदी ने शनिवार को मुंबई के एक कोर्ट से कहा कि वह सुरक्षा कारणों की वजह से भारत नहीं लौट सकता. प्रवर्तन निदेशालय की ओर से भगोड़ा घोषित किए जाने के आवेदन के जवाब में नीरव ने ये बात कही है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खब अनुसार नीरव मोदी ने कहा, मैंने कुछ भी गलत नहीं किया. पीएनबी स्कैम सिविल ट्रांजेक्शन था और इसे उस मामले से अलग तूल दिया जा रहा है. इस पूरे केस को राजनीतिक बनाने की कोशिश की जा रही है. इस मामले पर नेताओं के आ रहे बयानों से तो यही लग रहा है कि मेरे मुद्दे को राजनीति के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है.

बीते शुक्रवार को ही पीएनबी समेत कई भारतीय बैंकों का पैसा लेकर देश छोड़ चुका हीरा कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने बड़ी कार्रवाई की है. ED ने थाईलैंड में नीरव मोदी की 13.14 करोड़ की संपत्ति सील कर दी है.

नीरव मोदी के खिलाफ ईडी की बड़ी कार्रवाई

हीरा कारोबारी नीरव मोदी इन दिनों ब्रिटेन में है. ब्रिटिश अधिकारियों ने पिछले हफ्ते भारत को ये जानकारी दी थी. पिछले दिनों विदेश राज्यमंत्री वी के सिंह ने राज्यसभा में एक सवाल के जवाब में बताया था कि, ‘अगस्त, 2018 में सरकार ने ब्रिटेन के अधिकारियों को नीरव मोदी को भारत को प्रत्यर्पित किए जाने के लिए दो अनुरोध भेजे. एक अनुरोध सीबीआई की ओर से और दूसरा प्रवर्तन निदेशालय की ओर से था.’

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पिछले साल नवंबर में नीरव मोदी की दुबई में 56 करोड़ रुपए से अधिक की 11 संपत्ति कुर्क की गई थी. पिछले साल अक्टूबर में जांच एजेंसी ने मोदी और उसके परिवार के सदस्यों की 637 करोड़ रुपए की संपत्ति भी कुर्क की थी. इसमें न्यूयॉर्क के सेंट्रल पार्क स्थित उनके दो अपार्टमेंट भी शामिल थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi